हो गया फाइनल-कर लें इंतजाम: हिमाचल में 18 अक्टूबर को नहीं चलेंगी HRTC की बसें

Ticker

6/recent/ticker-posts

हो गया फाइनल-कर लें इंतजाम: हिमाचल में 18 अक्टूबर को नहीं चलेंगी HRTC की बसें


शिमला।
हिमाचल प्रदेश में हिमाचल पथ परिवहन निगम (एचआरटीसी) की बसें 18 अक्टूबर को नहीं चलेंगी। इसकी वजह यह है कि उस दिन कर्मचारी और पेंशनर अपनी मांगों को लेकर आंदोलन पर रहेंगे। एचआरटीसी कर्मचारियों की संयुक्त समन्वय समिति (जेसीसी) ने 18 अक्टूबर को प्रदेश में परिवहन सेवाएं बंद करने का फैसला लिया है। 

यह भी पढ़ें: विरोध के बाद बदले प्रतिभा सिंह के तेवर: बोलीं- बच्चों को सेना में भेजने वाले माता-पिता हैं महान

वेतन और अन्य वित्तीय लाभ जारी न किए जाने के लेकर यह निर्णय लिया गया है। हिमाचल परिवहन कर्मचारी संयुक्त समन्वय समिति के अध्यक्ष प्यार सिंह ठाकुर ने बुधवार को पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि एचआरटीसी प्रबंधन कर्मचारियों की समस्याओं के समाधान के लिए गंभीर नहीं है। वित्तीय लाभों को देने और समस्याओं के समाधान की मांग को लेकर परिवहन कर्मचारी पिछले 2 माह से आंदोलन कर रहे हैं। 

यह भी पढ़ें: जुब्बल-कोटखाई उपचुनाव : चेतन बरागटा ने वापस नहीं लिया नामांकन, 'सेब' मिला चुनाव चिन्ह

निगम कर्मचारियों एवं पैंशनरों के लगभग 582 करोड़ रुपए के अनेकों वित्तीय लाभ की देनदारियां वर्षों से लंबित हैं और ये आगे भी जमा हो रही है। वहीं, निगम प्रबंधन की ओर से कर्मचारियों के रुके वित्तीय लाभ जारी न करना, कर्मचारियों से बैठक न करना चुनाव आचार संहिता के दायरे में आने की बात कही जा रही है। यह सभी पुराने वित्तीय लाभ हैं, लेकिन इन्हें जारी नहीं किया जा रहा है।

ये हैं मांगें

एचआरटीसी के कर्मचारी जनवरी 2016 से 13 फीसद अंतरिम राहत, जनवरी 2019 से चार फीसद डीए, पांच फीसद जुलाई 2019 से और छह फीसद, जुलाई 2021 से डीए, कुल डीए 15 फीसद, 35 महीने का रात्रि ओवरटाइम, पेंशन, ग्रेच्युटी, लीव इन्कैशमेंट, जीपीएफ, मेडिकल रिइम्बर्समेंट सहित कई प्रकार के एरियर आदि जारी करने की मांग कर रहे हैं।

Post a Comment

0 Comments