हिमाचल: महाकाली मंदिर के पीछे बच्चा गिराने की किट बेच रहे थे हकीम मियां, पकड़े गए

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

हिमाचल: महाकाली मंदिर के पीछे बच्चा गिराने की किट बेच रहे थे हकीम मियां, पकड़े गए


सिरमौर।
हिमाचल प्रदेश के सिरमौर जिले स्थित औद्योगिक क्षेत्र कालाअंब में एक हकीम मियां को गर्भपात के लिए एमटीपी किट बेचे जाने को लेकर गिरफ्तार किया गया है। बतौर रिपोर्ट्स, आरोपी मियां हबीब रोड अनाज मंडी सहारनपुर के निवासी हैं और ये अपना धंधा कालाअंब स्थित महाकाली मंदिर के पीछे किराए के मकान में अवैध रूप से चला रहे थे। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल: शख्स ने गलती से पी लिया जहर, 2 मेडिकल कॉलेजों में ले गए पर नहीं बचा

बतौर रिपोर्ट्स, आरोपी की गिरफ्तार हरियाणा स्वास्थ्य विभाग व पुलिस टीम के द्वारा की गई है। हकीम मियां जी के नाम से चल रहे इस अवैध दवा खाने से गर्भ में पल रहे शिशु को मारने के लिए एमटीपी किट दी जाती थी। जानकारी के मुताबिक पुलिस जांच में यह भी खुलासा हुआ है कि हकीम स्थानीय कैमिस्ट के साथ मिलकर गर्भ में शिशु की हत्या की दवा बेचते थे। 

गर्भवती महिला को फर्जी ग्राहक बनाकर भेजा गया 

सूत्रों के मुताबिक अवैध रूप से एमटीपी किट बेचे जाने को लेकर अंबाला मेडिकल विभाग को इसकी शिकायत मिली थी, जिसके बाद सिविल सर्जन पीएनडीटी बलविंद्र कौर के नेतृत्व में तीन डाक्टरों की टीम गठित की गई। गठित टीम द्वारा एक 18 से 20 हफ्ते की गर्भवती महिला को फर्जी ग्राहक बनाया गया।

यह भी पढ़ें: हिमाचल: क्रेन का एंगल टूट कर कामगार पर गिरा- टूटा दम, बड़े भाई ने बताया कडवा सच..

महिला को उसकी एक सहेली के साथ कालाअंब के हकीम मियां के पास 14 अक्तूबर, 2021 को गर्भपात की दवा लेने भेजा गया, लेकिन हकीम मियां ने 23 अक्तूबर को गर्भपात की दवा ले जाने के लिए समय दे दिया। जांच टीम ने 23 अक्तूबर को दोपहर दो बजे के आसपास फिर से महिला को हकीम के पास भेजा। 

हिमाचल की केमिस्ट शॉप से दावा खरीदता था हकीम 

इस बार हकीम मियां पहले से ही ग्राहक के इंतजार में बैठा था। जैसे ही हकीम द्वारा महिला को गर्भ में बच्चा गिराए जाने की दवा दी गई तो घात लगाकर बैठी टीम ने तुरंत ही दवा सहित हकीम को पुलिस की मौजूदगी में धर दबोचा। हकीम से उन पैसों को भी बरामद कर लिया गया जो डाक्टरों द्वारा महिला को दिए गए थे। 

यह भी पढ़ें: अनुराग आएंगे जुब्बल कोटखाई: केंद्रीय मंत्री बिगाड़ ना दें चेतन का समीकरण- मजबूत होंगी नीलम

हकीम से पूछताछ के बाद पता चला कि एमटीपी किट हिमाचल स्थित एक केमिस्ट शॉप से ली जाती थी। दुकान से मेडिकल टीम को गर्भपात की दवाएं बैच नंबर व दवा निर्माता के नाम सहित मिल गई है, लेकिन दुकान मालिक फरार बताया जा रहा है। 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ