हिमाचलः घास चरते बैल के जबड़े में हुआ ब्लास्ट- जख्म ऐसे की कराह भी नहीं पा रहा

Ticker

6/recent/ticker-posts

हिमाचलः घास चरते बैल के जबड़े में हुआ ब्लास्ट- जख्म ऐसे की कराह भी नहीं पा रहा


कांगड़ाः
हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले स्थित धर्मशाला से एक बेहद ही हैरान करने वाला मामला सामने आया है। जहां घास चरने गई गाय का जबरा फटने की सूचना आई है। जिसके पीछे शरारती तत्वों का हाथ बताया जा रहा है।

फट गया जबरा:

घटना तंगरोटी खास पंचायत में दुरूह खड्ड का है। जहां घास चरते बैल का जबड़ा अचानक से फट गया। इस बारे में तब पता चला जब बैल का मालिक किशोरी लाल उसे घर ले जाने के लिए खड्ड गिनारे पहुंचा। जिसकी सूचना उसने पंचायत प्रधान को दी। जिसके बाद उन्होंने इस संबंध में पुलिस को जानकारी दी। 


इस घटना की सूचना पाने के बाद पुलिस व पशुपालन विभाग की टीम मौके पर पहुंची। जहां पशुपालन विभाग की टीम द्वारा बैल की जांच की जा रही है। आशंका जताई जा रही है कि यह कारनामा कुछ शरारती तत्वों द्वारा किया गया है। फिलहाल पुलिस द्वारा इस मामले के संबंध में अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर आगामी जांच की जा रही है। 

पुलिस कर रही जांच:

मिली जानकारी के मुताबिक यह घटना तब पेश आई जब बैल खड्ड किनारे चर रहा था। वहीं, शाम के समय बैल का मालिक जब उसे घर ले जाने के लिए खड्ड किनारे पहुंचा तो उसने पाया की बैल श्मशान घाट के पास दर्द से कहरा रहा था और उसका जबड़ा आधा बाहर निकला हुआ था। हालाकिं, अभी तक इस बात का पता नहीं चल पाया है कि आखिरकार यह हुआ तो हुआ कैसे। 


इस घटना पर स्थानीय पंचायत प्रधान का कहना है कि क्षेत्र में इस तरह का हादसा पहली बार देखा गया है। फिलहाल विभाग द्वारा इसकी जांच की जा रही है। वहीं, इस मामले की पुष्टि करते हुए पुलिस चौकी योल के प्रभारी नारायण दास ने बताया कि इस संबंध में अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। फिलहाल मामले की जांच की जा रही है।

विशेष समुदाय के लोगों का काम!

गौरतलब है कि हिमाचल प्रदेश में पूर्व में भी इस तरह के मामले सामने आ चुके हैं। जिसमें विशेष समुदाय के कुछ शरारती तत्व गाय को बम खिला दिए थे और वह बम फटने से गाय का जबरा फट गया है। 

साथ ही कील भी रोटी में डाल के खिला दिए हैं। हालांकि, इस मामले में जांच चल रही है। जिसके बाद साफ हो पाएगा कि गाय को किस तरह जख्मी किया गया।

Post a Comment

0 Comments