जुब्बल में नया खेल: नामांकन वापस लेने से पहले चेतन बरागटा हुए गायब- ढूंढ रहे BJP के शीर्ष नेता

Ticker

6/recent/ticker-posts

जुब्बल में नया खेल: नामांकन वापस लेने से पहले चेतन बरागटा हुए गायब- ढूंढ रहे BJP के शीर्ष नेता


शिमला।
हिमाचल प्रदेश में उपचुनाव को लेकर राजनीतिक सरगर्मियों का दौर तेज हो गया है। इस सब के बीच नामांकन वापस लेने का आज आखिरी दिन है। ऐसे में जहां अबतक माना जा रहा था कि बीजेपी के खिलाफ जाकर जुब्बल कोटखाई क्षेत्र से नामांकन भरने वाले चेतन बरागटा 13 तक अपना नाम वापस लेने का ऐलान कर सकते हैं। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल: संकरे रास्ते पर बिगड़ा भेड़-बकरियों का बैलेंस, एक साथ 200 खाई में समाईं

वहीं, अब हैरान करने वाली खबर ये सामने आ रही है कि चेतन नामांकन वापसी के अंतिम दिन कहीं गायब हो गए हैं। उनका मोबाइल नंबर भी स्विच ऑफ आ रहा है। इस सब के बीच बीजेपी के शीर्ष नेतृत्व के नेता उन्हें मनाकर परचा वापिस कराने के लिए हाथ पांव मारने में जुट गए हैं, लेकिन अबतक उनके हाथ खाली हैं और चेतन की खोज जारी है। 

नहीं माने चेतन तो बीजेपी की हार निश्चित है 

गौरतलब है कि सीएम सहित बीजेपी के तमाम नेता यह कह चुके हैं कि चेतन अपना नामांकन वापस लेंगे और पार्टी में कोई बगावत नहीं है। इस सब के बीच सूत्रों के हवाले से मिल रही जानकारी के अनुसार पार्टी द्वारा नाम वापसी का दबाव ना बना पाए, इसलिए चेतन बरागटा अपना फोन ऑफ कर बीजेपी नेताओं की पहुंच से दूर चले गए हैं। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल: घर से गायब हुई 16 साल की बेटी, पुलिस के पास पहुंचे पिता ने कहा- अगवा किया गया

अब चेतन के बागी तेवर ने बीजेपी की मुश्किलें बढ़ा दी है। बता दें कि अगर चेतन बरागटा नामांकन वापस नहीं लेते हैं तो जुब्बल कोटखाई उपचुनाव में मुकाबला त्रिकोणीय हो जाएगा। इसका सबसे ज्यादा नुकसान बीजेपी को होगा। चेतन के बागी होने से पार्टी का एक हिस्सा बीजेपी की ही खिलाफत में उतर आया है। ऐसे में अगर बीजेपी आज शाम तक चेतन को नहीं मन पाती है तो बीजेपी की हार तो निश्चित है। 

Post a Comment

0 Comments