हिमाचल से धान बेचने गए थे पंजाब: तीन किसानों पर FIR- जानें आखिर ऐसा क्या हुआ

Ticker

6/recent/ticker-posts

हिमाचल से धान बेचने गए थे पंजाब: तीन किसानों पर FIR- जानें आखिर ऐसा क्या हुआ


सोलन/चंडीगढ़।
हिमाचल प्रदेश के सोलन जिला निवासी तीन किसानों को पंजाब जाकर धान की बिक्री करना काफी महंगा पड़ गया। दरअसल, सोलन स्थित नालागढ़ के एक गांव में रहने वाले ये किसान ट्रैक्टर ट्राली लेकर पंजाब की मंडियों में पहुंचे थे। जहां पर उनके ट्रैक्टर सीज कर उनके खिलाफ FIR दर्ज कर दी गई है। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल BJP का बड़ा एक्शन: चेतन बरागटा पार्टी से छह साल के लिए निष्‍कासित

बता दें कि पंजाब सरकार ने न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) पर बाहरी राज्यों के लिए धान बेचने पर पाबंदी लगा दी है। ऐसे में  जैसे ही सूबे के किसानों का धान वहां पहुंचा, आढ़तियों ने भरतगढ़ पुलिस को बुलाकर किसानों के ट्रैक्टर सीज कर उनके खिलाफ धान बेचने के आरोप में मामला दर्ज कर लिया।

ये हैं पीड़ित किसानों के नाम 

दभोटा गांव के रणजीत सिंह और दुगरी गांव के लखविंद्र और बलविंद्र

यह भी पढ़ें: फतेहपुर में बीजेपी हो या कांग्रेस दोनों को चोट पहुंचाएंगे राजन सुशांत: ऐसे बिगाड़ेंगे समीकरण..

किसानों ने बताया कि उनकी पंजाब में जमीन है और वह उसी जमीन का धान लेकर मंडी गए थे, लेकिन उनकी कोई सुनवाई नहीं हो रही है। 15 दिन से किसानों की धान की फसल खेतों में पड़े-पड़े खराब होने लगी है। ढेर में रखे धान का रंग काला पड़ गया है। 

प्रदेश में न तो खरीद केंद्र है और न खरीदार, जबकि पंजाब में फसल बेचने जाओं तो उन पर मामले दर्ज हो रहे हैं। उधर, भरतगढ़ के पुलिस चौकी प्रभारी एसआई बलदीप सिंह ने मामला दर्ज होने की पुष्टि की है। 

कल से हिमाचल में एमएसपी पर होगी खरीद

वहीं, हिमाचल प्रदेश में किसानों को एमएसपी का लाभ देने के लिए राज्य सरकार भारतीय खाद्य निगम के माध्यम से 15 अक्तूबर से धान की खरीद करने जा रही है। इसको लेकर पांवटा साहिब, ऊना, नालागढ़, रियाली फ तेहपुर, अनाज मंडी फ तेहपुर और इंदौरा के त्यौरा में मंडियां खोली जा रही हैं। 

Post a Comment

0 Comments