Ex CM धूमल को दी जा सकती है संगठन की कमान, डॉ हंस राज समेत इन नामों को भी बड़ी जिम्मेदारी

Ticker

6/recent/ticker-posts

Ex CM धूमल को दी जा सकती है संगठन की कमान, डॉ हंस राज समेत इन नामों को भी बड़ी जिम्मेदारी

शिमला डेस्क: हिमाचल प्रदेश में उपचुनाव के नतीजे आने के बाद से ही सत्तारूढ़ दल में बदलाव को लेकर अटकलों का बाजार गर्म है। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने भी बदलाव की बात को बीते कल स्वीकार किया था।

प्रदेशाध्यक्ष की कमान !

सूत्रों के हवाले से जो बड़ी खबर निकल कर सामने आ रही है। उसके अनुसार पूर्व सीएम प्रेम कुमार धूमल को भाजपा प्रदेशाध्यक्ष की कमान दी जा सकती है। चुनाव में हार की वजहों में एक तर्क धूमल की अनदेखी को भी दी जा रही है।

विचारणीय है कि पूर्ण बहुमत की वर्तमान भाजपा सरकार भी प्रेम कुमार धूमल के ही नाम पर बनी है। परिस्थितियां कुछ ऐसी बनीं कि जयराम ठाकुर को एक्सीडेंटल सीएम बनाना पड़ा। हालांकि, जयराम ठाकुर की छवि भी प्रदेश में काफी स्वच्छ है और पार्टी आलाकमान भी इस को स्वीकार कर ही है।

धूमल के बिना मिशन रिपीट असंभव:

ऐसे में सूत्रों की मानें तो पूर्व सीएम प्रेम कुमार धूमल को भाजपा का प्रदेशाध्यक्ष की जिम्मेदारी देने से सुस्त पड़े संगठन में फिर से जान आ सकती है। ऐसा माना जा रहा है। साथ ही पार्टी भी इस बात को समझ चुकी है कि धूमल को दरकिनार करके हिमाचल में मिशन रिपीट संभव नहीं है। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल कैबिनेट : एक क्लिक में जानें मंत्रीमंडल के सभी छोटे-बड़े फैसले, जानिए क्या रहा ख़ास

हाल के दिनों की गतिविधियों पर गौर करें तो पूर्व सीएम प्रेम कुमार धूमल चुनाव परिणाम आने के साथ से ही काफी सक्रिय नजर आ रहे हैं। राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में भी धूमल शिमला से वर्चुअल माध्यम से जुड़े थे।

डॉ हंस राज को बड़ी जिम्मेदारी तय:

कहा यह भी जा रहा है कि धूमल गुट के करीबी नेताओं को भी सरकार और संगठन में तवज्जो दी जा सकती है। खासकर पार्टी युवा नेताओं को भी सरकार में बड़ी जिम्मेदारी दे सकती है। ऐसे में बड़ा नाम जो सूत्रों के हवाले से सामने निकल कर आ रहा है वह विधानसभा उपाध्यक्ष और चंबा के चुराह से लगातार दूसरी बार के विधायक डॉ हंस राज का है।

डॉ हंस राज पूर्व सीएम के काफी करीबी माने जाते हैं। युवा हैं और पिछले विधानसभा में विपक्ष में रहने के दौरान उन्होंने अपनी काबिलियत का परिचय दिया था। तत्कालीन नेता प्रतिपक्ष धूमल के साथ कंधा से कंधा मिलाकर वीरभद्र सरकार पर हमलावर थे।

लोकप्रिय नेता हैं डॉ हंस राज:

चंबा क्षेत्र में सबसे लोकप्रिय विधायक के तौर पर भी डॉ हंस राज को देखा जाता है। मास लीडर वाली उनकी छवि भी रही है। चंबा जिले के कुछ हिस्से जो मंडी लोकसभा में आते हैं वहां पार्टी को बढ़त भी नहीं हासिल हुई है, ऐसे में चंबा को मजबूत करना पार्टी की प्राथमिकता बन गई है। 

चंबा से सरकार में कोई मंत्री भी नहीं है। ऐसे में तय माना जा रहा है कि डॉ हंस राज को सरकार में बड़ी जिम्मेदारी दी जा सकती है।

यह भी पढ़ें: देवभूमि शर्मसार: माता दर्शन को आई किशोरी की संबंधी ने ही लूटी इज्जत, पानी में मिलाई थी बेहोशी की दवा

साथ ही कुछ अन्य नाम भी चल रहे हैं जिनकी सरकार और संगठन में भूमिका बड़ी हो सकती है। इन नामों में वीरेंद्र कंवर और सुखराम चौधरी का नाम सामने आया है। साथ मंडी क्षेत्र के जोगिंदर नगर से विधायक प्रकाश राणा का भी नाम चर्चा में हैं। सराज के बाद उनके क्षेत्र ने ही सबसे अधिक बढ़त मंडी लोकसभा में दी है।

Post a Comment

0 Comments