हिमाचल: उपनिदेशक ने किया दफ्तरों औचक निरीक्षण, गायब मिले अधिकारी-कर्मचारी

Ticker

6/recent/ticker-posts

हिमाचल: उपनिदेशक ने किया दफ्तरों औचक निरीक्षण, गायब मिले अधिकारी-कर्मचारी


मंडी।
सरकारी कर्मचारी कहने को तो आम जनता के मुलाजिम होते हैं, लेकिन आए दिन इस तरह के मामले सामने आते हैं कि मोटी सरकारी सैलरी लेने के बावजूद भी ये अपने काम में लापरवाही बरतते हैं। वहीं, इन कर्मियों की अनियमितताओं के चलते आम जनता को नुकसान उठाना पड़ जाता है।

यह भी पढ़ें: हिमाचल में सरकारी नौकरी: HPPSC ने निकाली 77 पदों पर भर्ती, जानें डीटेल

ताजा मामला हिमाचल प्रदेश के सीएम जयराम ठाकुर के गृह जिले मंडी से रिपोर्ट किया गया है। जहां विकास खंड गोहर में कृषि उपनिदेशक मंडी डॉ राजेश डोगरा ने विषयवाद विशेषज्ञ के कार्यालय का औचक निरीक्षण कर यहां कार्यरत कर्मचारी और अधिकारियों की आरामतलबी की पोल खोल दी। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल: नशे के कारण सेना की नौकरी गई फिर पत्नी को छोड़ा, अब ठंड और नशे ने छीनी जिंदगी

कृषि उपनिदेशक द्वारा अचानक से किए गए इस निरक्षण के दौरान एक चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारी को छोड़कर विषयवाद के कार्यालय में कार्यरत सभी अधिकारी मौके से नदारद पाए गए। इनमें विषयवाद विशेषज्ञ, कृषि विकास अधिकारी, सहायक कृषि विकास अधिकारी व कृषि प्रसार अधिकारी शामिल हैं। 

लगातार मिली रही थी शिकायतें- होगी कार्रवाई 

वहीं, विषयवाद कार्यालय के बाद कृषि उपनिदेशक ने भू–संरक्षण संभाग के कार्यालय का भी निरिक्षण किया, लेकिन वहां पर सभी कर्मी मौजूद रहे। 

बताया गया कि कृषि उपनिदेशक को क्षेत्र के किसानों से इस बात की खबर मिली थी कि गोहर में कृषि विभाग के अधिकारी कार्यालय में उपस्थित नहीं होते हैं तथा उनकी समस्याओं का समय पर समाधान नहीं किया जा रहा। इसके अलावा कृषि विभाग के साथ कार्य कर रही कंपनियों ने भी कुछ इसी तरह की शिकायतें की थीं। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल: खाई में गिरी कार- ग्राम रोजगार सेवक का दुखद निधन, एक चोटिल

वहीं, इन तमाम शिकायतों के बाद जब आज कृषि उपनिदेशक मंडी डॉ राजेश डोगरा ने मौके का निरिक्षण किया तो कई सारी अनियमितताओं के साथ कर्मियों को ड्यूटी से नदारद पाया। अब इस मसले पर राजेश डोगरा ने कहा है कि संबंधित कर्मचारी व अधिकारियों से जवाब तलब किया जाएगा व नियमावली के अनुसार कार्रवाई की जाएगी।

Post a Comment

0 Comments