हिमाचल: बकरे को बचाने के लिए खूंखार तेंदुए से भिड़ गई काली देवी, क्षेत्र में दहशत

Ticker

6/recent/ticker-posts

हिमाचल: बकरे को बचाने के लिए खूंखार तेंदुए से भिड़ गई काली देवी, क्षेत्र में दहशत


बिलासपुर।
हिमाचल प्रदेश के कई सारे क्षेत्रों में तेंदुओं का आतंक जारी है। इसी महीने राजधानी शिमला में 5 वर्षीय बच्चे की जान लेने का मामला हो या सोलन जिले में एक युवती को उसके घर के आंगन से उठाकर ले जाने का प्रयास। इन सभी घटनाओं की वजह से प्रदेश के अलग अलग इलाकों में तेंदुओं की वजह से दहशत का माहौल बना हुआ है। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल: बेटे के कमरे की जलती लाईट देख अन्दर गई मां, लटका हुआ मिला हैप्पी कुमार

इसी कड़ी में ताजा मामला सूबे के बिलासपुर जिले स्थित ग्राम पंचायत पंजगाई के गांव कुनणु से रिपोर्ट किया गया। जहां पर घर में ही बंधे एक पालतू बकरे पर खूंखार तेंदुए ने हमला कर दिया। इस बीच बकरे की मालकिन काली देवी अपनी जान की परवाह किए बिना साहस का परिचय देते हुए तेंदुए से भिड़ गईं। 

बकरे को बचाया भी और तेंदुए को भी भगा दिया 

इस दौरान काली देवी ने ना सिर्फ अपने बकरे को तेंदुए से बचाया बल्कि उसे मौके से भगा भी दिया। हालांकि, तबतक खूंखार तेंदुआ बकरे को गंभीर रूप से घायल कर चुका था। वहीं, घटना के बाद से ही पूरे गांव में दहशत का माहौल है। बता दें कि यह गांव एसीसी के माइनिंग एरिया के साथ में पड़ता है। वहीं, ग्रामीण अपने पशुओं को चराने के लिए बाहर ले जाते हैं, लेकिन तेंदुआ द्वारा हमला किए जाने के बाद से वे बाहर निकलने से भय खा रहे हैं। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल: तेजधार हथियार लेकर आपस में भिड़ी महिलाएं, वायरल हुआ वीडियो

अब यह घटना सामने आने के बाद ग्रामीणों द्वारा स्थानीय प्रशासन और वन विभाग से इस बात की मांग की गई है कि अधिकारी इस क्षेत्र पर आकर घटनास्थल का दौरा करें व इस तेंदुए को पकड़ने के लिए जाल लगाने का इंतजाम किया जाए, जिससे भविष्य में इस तरह की कोई घटना क्षेत्र में न घटे।

Post a Comment

0 Comments