हिमाचल: गंगा में डूबे कारोबारी का पुलिस ने कर दिया दाह संस्कार- परिवार को मिली केवल अस्थियां

Ticker

6/recent/ticker-posts

हिमाचल: गंगा में डूबे कारोबारी का पुलिस ने कर दिया दाह संस्कार- परिवार को मिली केवल अस्थियां

 



सिरमौर। हिमाचल प्रदेश के सिरमौर जिले से ताल्लुक रखने वाला एक कारोबारी जो कि 9 नवंबर से लापता चल रहा था। अब उसका पता चल गया है, लेकिन कारोबारी परिवार के ऊपर दुखों का पहाड़ उस वक्त टूट पड़ा जब उन्हें पता चला कि उनके बेटे की जान जा चुकी है। वहीं, हद तो तब हो गई जब उन्हें यह बात मालूम चली की उचित शिनाख्त ना हो पाने के कारण पड़ोसी राज्य उत्तराखंड की पुलिस ने उनके बेटे का दाह संस्कार तक कर दिया है। 

10 नवंबर से ही चल रही थी तलाश 

इस मामले में परेशान करने वाली बात यह है कि मृतक कारोबारी के परिवार को केवल अपने बेटे की अस्थियां ही मिल सकी हैं। मृतक शख्स का नाम अमित अरोड़ा (40) था। बता दें कि अमित के परिवार की तरफ से 10 नवंबर को पुलिस के पास उसकी गुमशुदगी की शिकायत दर्ज करवाई गई थी। इसके बाद से ही अमित का कुछ भी पता नहीं चल पाया था। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल: घर के पीछे जंगल में ठिकाना बनाकर रह रहा था लापता युवक, 4 दिन से खोज रही थी पुलिस

बताया जा है था कि अमित घर से सीधा ही स्कूटी पर हरिद्वार चला गया था। वहीं, 11 नवंबर को अमित हरिद्वार में गंगा नदी में डूब गया। इस हादसे के बाद स्थानीय पुलिस द्वारा उसके शव को नदी से बरामद किया गया था। इसके बाद जब 15 नवंबर तक उसकी सही शिनाख्त नहीं हो पाई तो पुलिस ने शव को लावारिस मानकर उसका अंतिम संस्कार कर दिया। 

परिवार वालों ने इस तरह खोजा अपना मृत बेटा 

इस बीच बीती रात अमित के परिवार को उत्तराखंड पुलिस की साइट के माध्यम से लावारिस लाशों के कॉलम में अमित की तस्वीर पहचान में आई। अपने बेटे की तस्वीर देखने के बाद अमित के परिवार वालों के पांव तले जमीन खिसक गई। इसके बाद वे सभी आनन-फानन में हरिद्वार के लिए रवाना हो गए। जहां पर पुलिस से मुलाकात कर उन्होंने अपने बेटे की अस्थियों को अपने कब्जे में लिया और हरिद्वार में ही अस्थियों का विसर्जन भी कर दिया। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल से बुरी खबर: खाई में गिरी कार- दो की गई जान, एक हुआ चोटिल

इस बीच अमित की स्कूटी को पार्किंग से बरामद कर लिया गया है। मिली जानकारी के अनुसार 40 वर्षीय अमित खुद भी एक सफल कारोबारी था, लेकिन कुछ अरसे से डिप्रेशन में आ गया था। पिता मनमोहन अरोड़ा शहर के एक नामी कारोबारी हैं। कारोबारियों में अमित के आकस्मिक निधन पर शोक की लहर है।

Post a Comment

0 Comments