कंगना के बिगड़े बोल- गांधी चाहते थे कि भगत सिंह को फांसी हो, दूसरा गाल आगे करने से भीख मिलती

Ticker

6/recent/ticker-posts

कंगना के बिगड़े बोल- गांधी चाहते थे कि भगत सिंह को फांसी हो, दूसरा गाल आगे करने से भीख मिलती

 

शिमला। हिमाचल प्रदेश से ताल्लुक रखने वाली बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत आए दिन अपने बयानों के चलते चर्चा में बनी रहती है। हाल ही में देश की आजदी को लेकर दिए गए अपने बयान के बाद कंगना ने अब एक और विवादित स्टेटमेंट दे दिया है। इस बार कंगना ने अपने निशाने पर राष्ट्रपिता कहे जाने वाले महात्मा गांधी को अपने निशाने पर रखा है। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल में नए जिलों के निर्माण को लेकर यह बोले CM जयराम: समझें क्या है योजना

कंगना का कहना है कि सुभाष चंद्र बोस और भगत सिंह को महात्मा गांधी से कोई समर्थन नहीं मिला और दूसरा गाल आगे करने से भीख मिलती है न कि आजादी। कंगना ने सोशल मिडिया प्लेटफॉर्म इंस्टाग्राम के माध्यम से कई स्टोरी डालकर महात्मा गांधी को निशाना बनाया। 

या तो आप गांधी के प्रशंसक हैं या नेताजी के समर्थक

इसके साथ अपनी इन स्टोरीज में अभिनेत्री ने एक अख़बार की पुरानी कटिंग को साझा किया है, जिसमें दावा किया गया है कि गांधी, जवाहरलाल नेहरू और मोहम्मद अली जिन्ना की एक ब्रिटिश न्यायाधीश के साथ सहमति बनी थी कि यदि बोस देश में प्रवेश करते हैं तो उन्हें उनके समक्ष पेश किया जाएगा। अब इस कटिंग के साथ कंगना ने लिखा है कि या तो आप गांधी के प्रशंसक हैं या नेताजी के समर्थक हैं। आप दोनों एक साथ नहीं हो सकते हैं। चुनो और फैसला करो।

यह भी पढ़ें: हिमाचल: हाइवे पर डिवाइडर से टकराई कार- एक शख्स कि गई जान, दूसरा गंभीर

कंगना ने एक अन्य स्टोरी में दावा किया कि जिन लोगों ने आजादी के लिए लड़ाई लड़ी उन्हें ऐसे लोगों ने अपने आकाओं को सौंप दिया जिनके पास अपने उत्पीड़कों से लड़ने का साहस नहीं था या जिनका खून नहीं खौलता था बल्कि वे चालाक और सत्ता लोलुप थे।

गांधी चाहते थे कि भगत सिंह को फांसी दी जाए

इसके बाद उन्होंने गांधी पर बात करते हुए लिखा कि इस बात के सबूत हैं कि वह चाहते थे कि भगत सिंह को फांसी दी जाए। 34 वर्षीय अभिनेत्री ने कहा कि ये वही लोग हैं जिन्होंने हमें सिखाया कि अगर कोई आपको थप्पड़ मारे तो एक और थप्पड़ के लिए दूसरा गाल आगे कर दो। इस तरह आपको आजादी मिलेगी। इस तरह से किसी को आजादी नहीं मिलती, ऐसे भीख मिल सकती है। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल के 4 जिलों के होटलों में CBI का छापा: पोर्न रैकेट का भंडाफोड़, सोलन का आरोपी!

कंगना ने आगे लिखा कि अपने नायकों को बुद्धिमानी से चुनें। अभिनेत्री ने कहा कि यह लोगों को अपने इतिहास और अपने नायकों बारे में जानने समय का है। उन्होंने कहा कि उन सभी को केवल अपनी स्मृति के एक खांचे में रखना और हर साल उन सभी को जन्मदिन की बधाई देना पर्याप्त नहीं है, यह न केवल मूर्खता है, बल्कि अत्यधिक गैर-जिम्मेदार और सतही है।

Post a Comment

0 Comments