हिमाचल में DL और पासिंग के नाम पर घूसखोरी, विजलेंस ने 1.13 लाख के साथ तीन को दबोचा

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

हिमाचल में DL और पासिंग के नाम पर घूसखोरी, विजलेंस ने 1.13 लाख के साथ तीन को दबोचा

मंडी : हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले से घूसखोरी की एक बड़ी खबर सामने आ रही है। मामला गाड़ियों के लाइसेंस बनाने और पासिंग का है। विजिलेंस टीम ने तीन लोगों को गिरफ्तार भी किया है।

रडार पर था पूरा विभाग:

मिली जानकारी के अनुसार विजिलेंस टीम को लगातार लाइसेंस बनाने और ड्राइविंग टेस्ट पासिंग के नाम पर भ्रष्टाचार की शिकायतें आ रहीं थीं। 27 नवंबर को सुंदरनगर के कंसा चौक में आरटीओ विभाग के एमवीआई ने गाड़ियों के लाइसेंस बनाने और पासिंग करने की तिथि निर्धारित की थी।

यह भी पढ़ें: बिग ब्रेकिंग: हिमाचल के जवान ने पत्नी संग फंदा लगाकर जान दी, पिछले साल ही हुई थी शादी

विजिलेंस टीम आरटीओ पर लगातार निगरानी बनाए हुए थे। गड़बड़ी की आशंका होते ही टीम ने दबिश दी और कार्रवाई के दौरान एमवीआई समेत तीन लोगों को करीब 1.13 लाख की रिश्वत की रकम के साथ गिरफ्तार कर लिया।

हो रही है डिटेल जांच:

कार्रवाई के दौरान विजिलेंस टीम ने एमवीआई अभिषेक शर्मा, उसके साथी प्रीतम और विनोद कुमार से गाड़ियों के लाइसेंस बनाने और पासिंग के नाम पर बतौर रिश्वत ली गई करीब 1 लाख 13 हजार 120 रुपये की रकम बरामद की है। 

स्टेट विजिलेंस ब्यूरो के मुताबिक कुछ समय पहले शिकायत मिली थी कि जिले में वाहनों की पासिंग और लाइसेंस जारी करने के नाम पर अवैध वसूली हो रही है। इसको देखते हुए ब्यूरो ने आरोपी एमवीआई और अन्य लोगों पर लगातार निगरानी रखना शुरू किया।

यह भी पढ़ें: हिमाचल के ये दो जिले हैं झारखंड से भी ज्यादा गरीब: गरीबी सूचकांक में प्रदेश Top 6 में शामिल

मौका मिलते ही दबिश देकर सभी को गिरफ्तार कर लिया। जांच एजेंसी मामले की गंभीरता से छानबीन कर रही है और इससे जुड़े अन्य पहलुओं को भी खंगाला जा रहा है। 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ