हिमाचल : रिटायरमेंट कार्यक्रम में शामिल होने निकले दो 'भाई' थे लापता, हफ्ते भर बाद खाई में मिली कार

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

हिमाचल : रिटायरमेंट कार्यक्रम में शामिल होने निकले दो 'भाई' थे लापता, हफ्ते भर बाद खाई में मिली कार

शिमला/सोलन : हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला से एक बड़ी ही दुखद खबर सामने आ रही है। बता दें कि एक हफ्ते से लापता चल रहे दो युवकों का शव खाई से बरामद किया गया है।

दोस्त के घर के लिए निकले थे:

मिली जानकारी के अनुसार सोलन जिला के अर्की क्षेत्र के मैटरनी निवासी दो चचेरे भाई रजनीश ठाकुर (26 वर्ष) पुत्र राम जी वर्मा और देवी चंद (27 वर्ष) पुत्र धनीराम अपने किसी दोस्त के पिता के रिटायरमेंट कार्यक्रम के लिए मशोबरा के लिए निकले थे।

यह भी पढ़ें: मंत्रीओं पर गिरेगी हार की गाज : CM जयराम ठाकुर ने लगाई मुहर, कहा - होगा बदलाव

दोनों भाई मशोबरा नहीं पहुंचे। परिजनों को भी इसकी कोई सूचना नहीं थी कि दोनों कहां है। घर से कार (HP 62D 0399) से निकले थे। दिवाली के दिन भी घर नहीं पहुंचे तो परिजनों ने गुमसुदगी की रिपोर्ट थाने में दर्ज कराई।

खाई में गिरी मिली कार :

मामला दर्ज होने के बाद ढली थाना पुलिस की टीमें युवकों की तलाश में जुटी गई। रविवार को तलाशी अभियान के दौरान दोपहर 2:00 बजे के करीब बलदेयां-घराटनाला सड़क पर ठेला मोड पर एक वाहन 300 मीटर गहरी खाई में गिरा पड़ा मिला।

यह भी पढ़ें: हिमाचल : दोस्त के घर गया युवक लगाता रहा शराब का पैक, ओवरडोज ने ले ली जान

स्थानीय लोगों की मदद से पुलिस ने शवों को गहरी खाई से बाहर निकाला। दुर्घटनाग्रस्त कार का नंबर वही था जिस कार से दोंनो युवक मशोबरा के लिए निकले थे। पुलिस ने इसकी सूचना परिजनों को दी। साथ ही शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। मामला दर्ज क्र हादसे के कारणों का पता लगाया जा रहा है।

वहीं, शव मिलने की सूचना मिलने के बाद से ही परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है। मृतक रजनीश पेशे से ट्रांसपोर्टर था जबकि देवी चंद भी वाहनों के व्यवसाय से जुड़ा था।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ