विपक्ष की भूमिका में दिखे अनिल शर्मा: कांग्रेस ने किया था वाकआउट, शिक्षा मंत्री को लपेटा

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

विपक्ष की भूमिका में दिखे अनिल शर्मा: कांग्रेस ने किया था वाकआउट, शिक्षा मंत्री को लपेटा

कांगड़ा : हिमाचल प्रदेश विधानसभा के शीतकालीन सत्र के तीसरे दिन विपक्ष सदन का वाकआउट किया था विपक्ष की भूमिका में आ गए भाजपा विधायक अनिल शर्मा और उन्होंने सरकार को सवालों के घेरे में लेकर कार्यशैली पर सवाल उठा दिया।

शिक्षा मंत्री कर रहे गुमराह: अनिल

बता दें कि सदन में मंत्रियों के पास उनके सवालों का प्रासंगिक जवाब नहीं था। वर्तमान सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे अनिल शर्मा ने कहा, मंडी सदर विधानसभा क्षेत्रों के तहत स्कूल भवनों का निर्माण तीन वर्ष से अधूरा है। स्कूल भवनों का निर्माण करने के लिए तीन-तीन करोड़ रुपये खर्च होने थे, लेकिन पांच लाख दिए जा रहे हैं। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल का 19 करोड़ी घोटाला: महिला IAS समेत 16 के खिलाफ FIR, कई लोगों की मुश्किल बढ़ेगी

अनिल शर्मा ने शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर पर सदन को गुमराह करने की बात कह दी। शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर ने जवाब देते हुए कहा कि मंडी सदर विधानसभा क्षेत्र के स्कूल भवन व अन्य शिक्षण संस्थानों के निर्माण के लिए बजट की कोई कमी नहीं है और 4.82 करोड़ की राशि खर्च की गई है। नौ निर्माण कार्यों को लेकर सूचना मांगी गई थी, जिनमें से चार के कार्य शुरू नहीं हुए।

यह भी पढ़ें: HRTC बस की टक्कर से बीच सड़क पर पलट गई मारुती 800: अस्पताल पहुंचे वाहन सवार

वरिष्ठ माध्यमिक स्कूल बदोह का कार्य 50 फीसद, मझवाड़ व कोटली का 80 फीसद और बड़ोह उच्च विद्यालय का 80 फीसद पूरा हो गया है। सभी कार्यों के लिए 13.15 करोड़ रुपये की प्रशासनिक अनुमति मिली है, जिसमें से 4.82 करोड़ रुपए खर्च किए जा चुके हैं।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ