हिमाचल में दहेज़ के दरिंदे: बेटी जन्मी तो कोसा, इतना पीटा कि बहु पहुंची थाने- 4 पर केस

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

हिमाचल में दहेज़ के दरिंदे: बेटी जन्मी तो कोसा, इतना पीटा कि बहु पहुंची थाने- 4 पर केस


कांगड़ाः 
हिमाचल प्रदेश में एक विवाहिता द्वारा अपने ससुराल वालों पर दहेज उतपीड़न सहित मानसिक व शारीरिक तौर पर प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है। मामला कांगड़ा जिले स्थित पुलिस थाना ज्वालामुखी के तहत पड़ते एक गांव का है। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल: महिला को चुनाव हारे 11 महीने बीते गए अब उठाई 'दोबारा मतगणना' की मांग, जानें क्यों

मिली जानकारी के मुताबिक विवाहिता ने बताया कि उसकी शादी को हुए 6 साल हो गए हैं। वहीं, शादी के एक साल के भीतर ही उनकी एक बेटी हो गई व उसका 10 माह का बेटा भी है। पीड़िता कहती है कि कुछ समय तक उसके पति के साथ संबंध अच्छे थे, लेकिन बेटी के होने के बाद पति व ससुर सहित जेठ, जेठानी ने धीरे-धीरे मानसिक तौर पर उसे दहेज के लिए प्रताड़ित करना शुरु कर दिया। 

बेटी होने पर मारे ताने-किया दहेज के लिए प्रताड़ित

इतना ही नहीं उन्होंने विवाहित को बेटी होने के साथ-साथ दहेज के लिए ताने मारना शुरु कर दिया। महिला कहती है कि कुछ समय बाद उसके पति ने उसे मारना पीटना शुरु कर दिया। पहले तो वह लाज शर्म के चलते चुप रही परंतु अब बात हद से ज्यादा बढ़ गई है। अब ससुराल वाले उसे जानलेवा धमकियां देते हैं। 

ससुरालवालों ने विवाहिता का सामान फेंका घर से बाहर-

इस संबंध में महिला ने अपनी पंचायत में भी शिकायत दी थी इसके साथ ही पुलिस थाना ज्वालामुखी में भी पुलिस ने शिकायत को सीडीपीओ देहरा भेजा था। परंतु वहां भी पति को सुधरने का मौका दिया गया था। इस दौरान बीते 19 दिसंबर को जब महिला अपनी मां, भाई व प्रधान के साथ अपने ससुराल में बातचीत कर रही थी तो उस दौरान उसके ससुरालवालों ने उसका सामान घर से बाहर फेंकना +शुरु कर दिया। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल: दोस्त के जन्मदिन में शामिल होने घर से निकली, अबतक घर नहीं लौटी

इतना ही नहीं उन्होंने गाली गलौच कर मारपीट भी की। वहीं, पुलिस ने विवाहिता के बयान पर ससुर वालों के खिलाफ आईपीसी की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया है। फिलहाल पुलिस द्वारा मामल की गहनता से जांच की जा रही है। मामले की पुष्टि डीएसरी ज्लालामुखी चंद्रपाल ने की है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ