हिमाचल भाइयों ने दी डबल खुशखबरी: एक बेटा नौसेना तो दूसरा थलसेना में बना लेफ्टिनेंट, शुभकामनाएं

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

हिमाचल भाइयों ने दी डबल खुशखबरी: एक बेटा नौसेना तो दूसरा थलसेना में बना लेफ्टिनेंट, शुभकामनाएं


हमीरपुरः
हिमाचल प्रदेश के हमीरपुर जिले स्थित विधानसभा क्षेत्र सुजानपुर के तहत पड़ती पंचायत टपरे के गांव नौहगीं के रहने वाले दो भाईयों ने बचपन से ही सेना में जाने का सपना देखा था। अपने सपने को पूरा करने के लिए दोनों ने जी तोड़ मेहनत की और आज जाकर उनकी ये मेहनत रंग लाई है। बता दें कि नौहगीं गांव के रहने वाले रोहन भारद्वाज व राहुल भारद्वाज सेना व नौसेना में लेफ्टिनेंट व सब-लेफ्टिनेंट बने हैं। 

मां की आंखों से छलके आंसू 

दोनों बेटों के अफसर बन घर लौटने पर मां की आखों से खुशी के आंसू छलक उठे, जबकि इलाके में भी खुशी की लहर दौड़ पड़ी है। बताया जा रहा है कि दोनों ही भाईयों ने एनडीए की परीक्षा पास की थी। बड़े भाई रोहन भारद्वाज ने इंडियन नेवल अकादमी और राहुल भारद्वाज ने यूपीएससी की परीक्षा पास करने के बाद नेशनल डिफेंस अकादमी पुणे तथा इंडियन मिलिट्री अकादमी देहरादून से ट्रेनिंग पूरी की। 

यह भी पढ़ें: कश्मीर में बड़ा आतंकी अटैक: सुरक्षाबलों की बस पर गोलीबारी, 2 शहीद, 14 जख्मी

इस दौरान बीते 27 नवबंर 2021 को रोहन भारद्वाज इंडियन नेवल अकादमी में सब लेफ्टिनेंट बन नौसेना का हिस्सा बने हैं। जबकि राहुल भारद्वाज को बीते 11 दिसंबर 2021 को इंडियन मिलिट्री अकादमी देहरादून से ट्रेनिंग पूरी कर बतौर लेफ्टिनेंट सेना में भर्ती हुए हैं। इस संबंध में जानकारी देते हुए रोहन और राहुल भारद्वाज ने बताया कि उनके पिता और चाचा भारतीय नौसेना में थे। 

सैनिक स्कूल सुजानपुर से की शुरूआती पढ़ाई 

बचपन से ही उनका सपना भी आर्मी में जाने का था। इसकी शुरुआत दोनों ने सैनिक स्कूल सुजानपुर से शुरू की। उन्होंने अपनी सफलता का श्रेय अपने माता-पिता और रिश्तेदारों को दिया है। बता दें कि रोहन व राहुल के पिता सुशील कुमार भी नौसेना में अपनी सेवाएं देकर एमसीपीओ-2 पद से सेवानिवृत्त हुए थे। वर्तमान में वे एक सरकारी स्कूल में लेक्चरर हैं।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ