हिमाचल: 7 साल तक शादी का ख़्वाब सजाए बैठी रही, सगाई की आड़ में होता रहा बार-बार रेप

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

हिमाचल: 7 साल तक शादी का ख़्वाब सजाए बैठी रही, सगाई की आड़ में होता रहा बार-बार रेप


सिरमौर।
हिमाचल प्रदेश के सिरमौर जिले स्थित उपमंडल नाहन से एक युवती के साथ सालों से हो रहे दुष्कर्म का बड़ा ही चकित और शर्मसार करने वाला मामला सामने आया है। दरअसल, यहां रहने वाली एक लड़की को एक युवक बीते 7 साल से शादी करने के ख़्वाब दिखाते हुए उसकी आबरू के साथ बार बार खिलवाड़ कर रहा था। बताया गया पहले आरोपी युवती का पीछा कर उसपर दोस्ती करने का दबाव डालता था। 

यह भी पढ़ें: विधानसभा: सरकार के बहुमत पर विपक्ष को यकीन नहीं, सदन में रखा अविश्वास प्रस्ताव- हुआ ख़ारिज

इसके कुछ दिन बाद साल 2014 में वह अपने माता-पिता को लेकर रिश्ते की बात करने लड़की के घर आ धमका। उस वक्त दोनों परिवारों के बीच यह तय हुआ कि दो-तीन साल में शादी हो जाएगी। पीड़िता द्वारा बताया गया कि आरोपी उसे बार-बार विश्वास दिलाता रहा कि जल्द ही वह उससे शादी कर लेगा। 

शारीरिक संबंध बनाने के लिए मजबूर करता रहा

इसी बीच 2015 में लड़की को एक परीक्षा के सिलसिले में शिमला जाना था। इसके बाद वो भी चंडीगढ़ से उसके साथ शिमला चला गया। परीक्षा से एक दिन पहले शिमला पहुंचे थे। होटल के कमरे में वो बार-बार शारीरिक संबंध बनाने के लिए मजबूर करता रहा। इसके बाद भी वो उसे बुलाता था, लेकिन वो इंकार कर देती थी।

यह भी पढ़ें: हिमाचल के युवाओं को खाता नशा: 22-23 साल के तीन युवक अरेस्ट, चिट्टा-चरस की खेप बरामद

पीड़िता की मानें तो सगाई की आड़ में वो बार-बार संबंध बनाने की कोशिश करने लगा। एक बार उसने अपने माता-पिता से मिलने के लिए घर भी बुलाया। जब घर पहुंची तो उसके माता-पिता कहने लगे कि एचएएस या यूपीएससी की परीक्षा की तैयारी करो। नौकरी की तैयारी करो, हमारा बेटा बैंक में नौकरी करता है। 

सगाई तो हो गई है, संबंध बनाने से कुछ फर्क नहीं पड़ता

पीडिता के अनुसार उनके कहने पर ही वो चंडीगढ़ कोचिंग के लिए गई, वहां भी आरोपी उससे मिलने आया करता था। चंडीगढ़ में भी वो एक बार उसे होटल में लेकर गया। इस दौरान भी कहा कि सगाई तो हो ही गई है, संबंध बनाने से कुछ फर्क नहीं पड़ता। 

यह भी पढ़ें: सवर्ण आयोग: प्रदर्शनकारियों की पत्थरबाजी के बाद CM ने की बात, सदन में बोले- करेंगे गठन

लड़की द्वारा बताया गया कि चंडीगढ़ से लौटने के बाद एक बार उसे युवक की मां ने फोन कर गहने पसंद करने को भी कहा था। पीड़िता ने बताया कि इस दौरान उसकी मां घर से कहीं चली गई। इसके बाद उससे घर पर ही शारीरिक संबंध भी बनाए गए। मना करने पर हाथ भी उठाया गया। 

शादी की तारीख भी तय कर दी, लेकिन..

इसके बाद 28 फरवरी 2017 को शादी की तारीख भी तय कर दी गई, लेकिन आरोपी के परिवार में कोई अप्रिय घटना हो जाने के कारण इसे टाल दिया गया। इसके बाद आरोपी ने अपनी ट्रांसफर ग्वालियर करवा ली। सितंबर 2017 के बाद आरोपी शहर से चला गया। शारीरिक उत्पीड़न की बात को जब आरोपी के माता-पिता को बताया गया तो वो उससे बदसलूकी करने लगे। 

यह भी पढ़ें: हिमाचलः 2 किलो 527 ग्राम चरस की खेप लेकर आ रहे शख्स को पुलिस ने रंगे हाथ दबोचा

इसके बाद भी आरोपी शादी के लिए मान गया था। लड़की के माता-पिता अप्रैल 2021 में गांव के उप प्रधान को लेकर भी आरोपी के घर पहुंचे थे। इस दौरान पीड़ित परिवार से 5 लाख रुपए व गाड़ी की डिमांड की गई। पीड़िता के पिता ने कालाअंब में अपनी जमीन को बेच दिया। 

आरोपी ने अंतरिम जमानत ली हुई है

शिकायत मिलने के बाद पुलिस ने 18 नवंबर 2021 को आईपीसी की धारा-376, 406 व 34 के अलावा दहेज उत्पीड़न की धारा-4 के तहत मामला दर्ज किया। उधर, पूछे जाने पर डीएसपी (मुख्यालय) मीनाक्षी ने बताया कि आरोपों को लेकर तस्दीक की जा रही है। आरोपी ने अदालत से अंतरिम जमानत ली हुई है। उन्होंने कहा कि मामला दर्ज होने से पहले ही अंतरिम बेल ले ली गई थी।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ