हिमाचल: सरकारी कर्मी का हादसे में निधन, अस्पताल पर आरोप; AIIMS के पास धरना

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

हिमाचल: सरकारी कर्मी का हादसे में निधन, अस्पताल पर आरोप; AIIMS के पास धरना


बिलासपुर।
हिमाचल प्रदेश में जारी सड़क हादसों के दौर के बीच आज शिमला-हमीरपुर राष्ट्रीय उच्च मार्ग पर एम्स के पास हुए हादसे में एक शख्स की जान चली गई। 

मृतक धर्म सिंह (39) निवासी राजपुरा जल शक्ति विभाग में कार्यरत थे और ड्यूटी के लिए ब्रह्मपुखर को पैदल जा रहे थे। 

वारदात के बाद कार सवार भाग निकला

इस बीच एम्स के पास ब्रह्मपुखर की तरफ से आई एक कार ने उसे टक्कर मार दी, जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गए। वारदात के बाद कार सवार भाग निकला। 

इसके बाद स्थानीय लोगों ने घायल को एम्स में पहुंचाया, जहां से प्राथमिक उपचार के बाद उसे क्षेत्रीय अस्पताल रेफर कर दिया गया।

आईजीएमसी पहुंचने से पहले निधन 

इसके बाद परिजन एम्बुलेंस से उसे क्षेत्रीय अस्पताल लाए, जहां किए गए एक्स-रे में धर्म सिंह की दोनों टांगों में फ्रैक्चर पाया गया। 

उसकी नाजुक हालत को देखते हुए चिकित्सकों ने उसे आईजीएमसी शिमला रेफर किया। शिमला पहुंचने से पहले ही नौणी के पास धर्म सिंह दम तोड़ दिया। परिवार के लोगों का कहना है कि उसका ठीक ढंग से इलाज नहीं किया गया और स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही के चलते उनकी जान गई।

स्वारघाट में पकड़ा गया कार चालक 

मामले का पता चलते ही छानबीन में जुटी पुलिस ने कार चालक को कड़ी मशक्कत के बाद स्वारघाट में पकड़ा लिया है।

उधर, पुलिस कार्यप्रणाली से गुस्साए ग्रामीणों ने एम्स के पास शव के साथ धरना दे दिया। मृतक के भाई जीवन राम ने आरोप लगया है कि पुलिस कार चालक को बचाने का प्रयास कर रही है और उसे सामने नहीं ला रही है। 

ग्रामीणों द्वारा दिए गए धरने की सूचना मिलने के बाद पुलिस बल मौके पर पहुंचा तथा लोगों को काफी देर समझाने के बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए क्षेत्रीय अस्पताल पहुंचाया। 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ