छेड़छाड़ का आरोपी प्रिंसिपल बुरा फंसा: दो और छात्राएं बोलीं- बहाने से ले गया था शिमला-चंड़ीगढ़

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

छेड़छाड़ का आरोपी प्रिंसिपल बुरा फंसा: दो और छात्राएं बोलीं- बहाने से ले गया था शिमला-चंड़ीगढ़


शिमलाः
हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला स्थित गवर्नमेंट कॉलेज सीमा के प्रिंसिपल पर कॉलेज की ही एक छात्रा ने छेड़छाड़ करने सहित बरगलाने का आरोप लगाया था। इस संबंध में कार्रवाई करते हुए विभाग की ओर से आरोपित प्राचार्य को बीते सोमवार को निलंबित कर दिया गया है। 

लड़कियों के ग्रुप को ले गया था शिमला 

वहीं, अब इसी कड़ी में आरोपित प्रिंसिपल पर दो अन्य छात्राओं ने संगीन आरोप लगाया है। मिली जानकारी के मुताबिक कॉलेज में गठित वुमेन सेल में दो अन्य छात्राओं ने प्रिंसिपल के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई है। वुमेन सेल में दी शिकायत में छात्राओं ने बताया कि 3 अक्टूबर को कार्यकारी प्राचार्य बृजेश चौहान लड़कियों के एक ग्रुप को शिमला ले गया। 

इस दौरान पहले उन्हें शिमला स्थित एक होटल में यह कह कर ठहराया गया कि सोलन के एक निजी विश्वविद्यालय में कार्यक्रम वहै। इसके उपरांत अगले दिन वे उन्हें घुमाने के लिए चंडीगढ़ ले गया। जहां वे एक होटल में ठहरे इसके अगले दिन वे वापस शिमला आ गए। 

निजी होटल में ठहराया, रात में खटखटाता रहा दरवाजा 

छात्राओं का आरोप है कि 5 अक्टूबर को जब वे शिमला में निजी होटल में रुकीं थीं तो रात को प्रिंसिपल नशे की हालत में धुत होकर उनके कमरे में आ गया और बाजू पकड़कर फोटो लेने की कोशिश करने लगा। इतना ही नहीं आरोपित रात को भी उनके कमरे का दरवाजा खटखटाता रहा। 

वूमेन सेल तक जा चुका है मामला 

प्रिंसिपल के इस कृत्य से वह बहुत डर गईं। इस घटना के बाद वे अगली सुबह ग्रुप छोड़कर वापस घर लौट आईं। छात्राओं द्वारा दिए गए शिकायत पत्र को वुमेन सेल ने उच्चतर शिक्षा विभाग के निदेशक को भेज दिया है। 

बता दें कि कुछ समय पहले सीमा कॉलेज रोहडू की छात्रा ने अपने प्रिंसिपल के खिलाफ छेड़छाड़ का आरोप लगाया था। इस संबंध में छात्रा ने एक  रिकार्डिंग भी वुमेन सेल को सुनाई थी। इसके उपरांत वुमेन सेल ने आरोपित के खिलाफ पुलिस थाना में एफआईआर दर्ज करवाई थी। 

वहीं, छात्रा के नाबालिग साबित होने के कारण पुलिस ने पॉक्सो एक्ट के तहत आरोपित प्रिंसिपल के खिलाफ मामला दर्ज किया है। पुलिस द्वारा मामले के संबंध में आगामी कार्रवाई अमल में लाई जा रही है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ