हिमाचल की क्रिकेट टीम ने रचा इतिहास, पहली बार फाइनल में पहुंचे; जीते तो बनेगा रिकॉर्ड

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

हिमाचल की क्रिकेट टीम ने रचा इतिहास, पहली बार फाइनल में पहुंचे; जीते तो बनेगा रिकॉर्ड

कांगड़ा/धर्मशाला: हिमाचल प्रदेश की क्रिकेट टीम ने इतिहास रच दिया है। पहली बार प्रदेश की टीम विजय हजारे ट्रॉफी के फाइनल में पहुंची है। बता दें कि हिमाचल की टीम ने सेमीफाइनल मुकाबले में सर्विसेज की टीम को 77 रनों से हराकर फाइनल में जगह बनाई है।

कप्तानी पारी ने दिलाई जीत:

हिमाचल की टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 280 रन बनाए। हालांकि, टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही। ओपनर बल्लेबाज शुभम अरोरा ने जल्दी ही अपना विकेट गंवा दिया। जिसके बाद प्रशांत चौपड़ा (78 रन) और दिग्विजय ने टीम को अच्छी शुरुआत दी।

यह भी पढ़ें: PM के दौरा से पहले ही निजी बस ऑपरेटर्स को तोहफा: CM ने किया टैक्स माफ़ी का ऐलान

टीम के कप्तान ऋषि धवन ने भी 84 रनों की कप्तानी पारी खेलकर हिमाचल का स्कोर ढ़ाई सौ के पार पंहुचा दिया। विपक्षी टीम को मैच जीतने के लिए 281 रन बनाने थे लेकिन सर्विसेज की टीम 204 के स्कोर पर ही आल आउट हो गई।

खिलाड़ियों का मनोबल हाई:

गेंदबाजी में भी कप्तान ऋषि धवन ने अपना कमाल दिखाया और शानदार गेंदबाजी का प्रदर्शन करते हुए कुल 4 बल्लेबाजों को पवेलियन का रास्ता दिखाया। साथ ही आकाश भट्ट ने भी 2 विकेट झटककर हिमाचल प्रदेश की टीम को फाइनल में पहुंचाया।

यह भी पढ़ें: ओमिक्रॉन 'अलर्ट' के बीच क्रिसमस और New Year पर शिमला पहुंचेंगे 5 लाख सैलानी

हिमाचल प्रदेश की टीम का ये विजय रथ इसी तरह लगातार जारी रहता है तो टीम पहली बार विजय हजारे ट्रॉफी अपने नाम कर सकती है। सेमीफाइनल में मिली जीत और लीग्स मैच में भी अच्छे प्रदर्शन से खिलाड़ियों का मनोबल काफी उंचा है और उम्मीद है कि इस बार कमाल होगा।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ