मोदी ने जीता सबका दिल: मंडयाली में भाषण, सेपू बड़ी का जिक्र; बोले- 5 में से 3 कैलाश हिमाचल में..

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

मोदी ने जीता सबका दिल: मंडयाली में भाषण, सेपू बड़ी का जिक्र; बोले- 5 में से 3 कैलाश हिमाचल में..


मंडीः
हिमाचल प्रदेश में सरकार के चार साल पूरे होने के उपलक्ष पर मंडी में आयोजित कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रदेश वासियों को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने अपने संबोधन की शुरुआत पहाड़ी भाषा में करते हुए सभी का दिल जीत लिया। उन्होंने कहा कि देवभूमि में आशीर्वाद लेणे रा मौका मिलेया। देवभूमि दे सभी देवी-देवतयां जो मेरा नमन। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि जब मंडी आता हूं तो बदाणे रा मिट्ठा और सेपो बड़ी की याद आ जाती है।

नरेंद्र मोदी ने कहा कि हिमाचल से मेरा हमेशा से एक भावात्मक रिश्ता रहा है। उन्होंने कहा कि हिमाचल की धरती ने मेरे जीवन को दिशा देने में अहम भूमिका निभाई है। पीएम ने कहा कि आज डबल इंजन की सरकार के भी 4 साल पूरे हुए हैं। सेवा और सिद्धि के इन 4 सालों के लिए हिमाचल की जनता जनार्दन को बहुत-बहुत बधाई देता हूं। उन्होंने कहा कि इन 4 वर्षों में 2 साल हमने मजबूती से कोरोना से भी लड़ाई लड़ी है और विकास के कार्यों को भी रुकने नहीं दिया।

बकौल पीएम, बीते चार सालों में हिमाचल को पहला एम्स मिला, हमीरपुर, मंडी, चंबा और सिरमौर में चार नए मेडिकल कॉलेज स्वीकृत किए गए। अभी यहां थोड़ी देर पहले 11,000 करोड़ रुपये की लागत वाले चार बड़े हाइड्रो इलेक्ट्रिक प्रोजेक्ट्स का शिलान्यास या फिर लोकार्पण भी किया गया है।

पीएम मोदी ने कहा कि श्री रेणुका जी हमारी आस्था का अहम केंद्र है। भगवान परशुराम और उनकी मां रेणुका जी के स्नेह की प्रतीक इस भूमि से आज देश के विकास के लिए भी एक धारा निकली है। गिरी नदी पर बन रही श्री रेणुकाजी बांध परियोजना जब पूरी हो जाएगी तो एक बड़े क्षेत्र को इससे सीधा लाभ होगा। इस प्रोजेक्ट से जो भी आय होगी उसका भी एक बड़ा हिस्सा यहीं के विकास पर खर्च होगा।

पंच कैलाश में से 3 कैलाश हिमाचल प्रदेश में

हिमाचल प्रदेश शिव और शक्ति का स्थान है। पंच कैलाश में से 3 कैलाश हिमाचल प्रदेश में हैं, कई शक्ति पीठ यहां स्थित हैं। डबल इंजन की सरकार हिमाचल की इस ताकत को कई गुणा बढ़ाने वाली है। मंडी में शिव धाम का निर्माण भी इसी प्रतिबद्धता का परिणाम है।

वैक्सीन लगाने और दवा उत्पादन को लेकर कही बड़ी बात 

इसके साथ ही पीएम बोले कि भारत को आज pharmacy of the world कहा जाता है तो इसके पीछे हिमाचल की बहुत बड़ी ताकत है। कोरोना वैश्विक महामारी के दौरान हिमाचल प्रदेश ने ना सिर्फ दूसरे राज्यों, बल्कि दूसरे देशों की भी मदद की है।

मंच से संबोधन के दौरान पीएम ने कहा कि हिमाचल ने पूरी वयस्क जनसंख्या को वैक्सीन देने में बाकी अन्य राज्यों से बाजी मार ली है। यहां जो सरकार में हैं वो राजनीतिक स्वार्थ में डूबे नहीं है, बल्कि उन्होंने पूरा ध्यान हिमाचल के एक-एक नागरिक को वैक्सीन कैसे मिले इसमें लगाया है।

विपक्ष को लिया आड़े हाथों

उन्होंने कहा कि आज देश में सरकार चलाने के दो अलग अलग मॉडल काम कर रहे हैं। एक मॉडल है - सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास और सबका प्रयास। वहीं दूसरा मॉडल है - खुद का स्वार्थ, परिवार का स्वार्थ और विकास भी खुद के परिवार का है। 

रेणुका जी परियोजना और अटल टनल पर बड़ी बात 

हर देश में अलग-अलग विचारधाराएं होती हैं, लेकिन आज हमारे देश के लोग स्पष्ट तौर पर दो विचारधाराओं को देख रहे हैं। एक विचारधारा विलंब की है और दूसरी विकास की। विलंब की विचारधारा वालों ने पहाड़ों पर रहने वाले लोगों की कभी परवाह नहीं की।

लोगों को बुनियादी सुविधा देने का काम हो, विलंब की विचारधारा वाले लोगों ने हिमाचल के लोगों को दशकों तक इंतजार करवाया। इसी वजह से अटल टनल के काम में बरसों का विलंब हुआ, रेणुका जी परियोजना में भी 3 दशकों के विलंब हुआ।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ