संक्रमित हो चुके लोगों को ओमिक्रॉन से री-इन्फेक्शन का खतरा: भारत में एक दिन में 18 केस

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

संक्रमित हो चुके लोगों को ओमिक्रॉन से री-इन्फेक्शन का खतरा: भारत में एक दिन में 18 केस


शिमला।
अभी पूरी दुनिया डेल्टा वैरिएंट की मार से उबरने की कोशिश कर ही रही थी कि कोरोना के नए वैरिएंट 'ओमिक्रॉन' ने दस्तक दे दी है। साउथ अफ्रीका में मिले इस नए वैरिएंट ने एक बार फिर से दुनिया भर के हेल्थ एक्सपर्ट्स और साइंटिस्ट की चिंता बढ़ा दी है। 

इन्फेक्टेड लोगों को दोबारा संक्रमण का खतरा 

रिपोर्ट के अनुसार, डेल्टा की तुलना में ओमिक्रॉन से तीन गुना ज्यादा री-इन्फेक्शन का खतरा है। इसका मतलब ये है कि जो लोग कोरोना से पहले इन्फेक्टेड हो चुके हैं, उन्हें भी ओमिक्रॉन से इन्फेक्टे होने का खतरा है। 

अबतक 400 केस आए सामने, भारत में भी 

ओमिक्रॉन वैरिएंट ने कोरोना की तीसरी लहर की दहशत पैदा कर दी है। 10 दिनों में ही यह 35 देशों में फैल चुका है। अब तक करीब 400 केस सामने आ चुके हैं। भारत में भी 22 लोगों में ओमिक्रॉन वैरिएंट के केस मिले हैं। इसको लेकर एक्सपर्ट्स भी चेतावनी दे चुके हैं कि यह डेल्टा वैरिएंट से 10 गुना ज्यादा रफ्तार से फैल सकता है।

भारत में एक दिन में 4 से 22 हुई संक्रमितों की संख्या

भारत में कोरोना वायरस के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन संक्रमण के मामलों में रविवार को भारी उछाल दर्ज किया गया है। रविवार को महाराष्ट्र में 7, राजस्थान में 9 और दिल्ली में 1 शख़्स समेत कुल 18 लोगों के ओमिक्रॉन वैरिएंट से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। इसके साथ ही भारत में ओमिक्रॉन संक्रमण के मामलों की कुल संख्या 22 हो गई है। विश्व स्वास्थ्य संगठन लगातार इस वैरिएंट को चिंता का विषय बताया है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ