हिमाचल-उत्तराखंड को जोड़ने वाले ब्रिज के पास पुलिस रेड हडकंप: 10 ट्रैक्टर चालक भागे, कुछ पकड़ाए

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

हिमाचल-उत्तराखंड को जोड़ने वाले ब्रिज के पास पुलिस रेड हडकंप: 10 ट्रैक्टर चालक भागे, कुछ पकड़ाए


सिरमौरः
हिमाचल प्रदेश के साथ लगते उत्तराखंड राज्य को जोड़ने वाले यमुनापुल के करीब अवैध खनन करने वालों के खिलाफ पुलिस ने कड़ा एक्शन लिया है। बताया जा रहा है कि यमुनाब्रिज को अवैध खननकारियों से खतरा पैदा हुआ है। दरअसल, अवैध खनन को अंजाम देने वाले पुल के ठीक नीचे तक भी खुदाई करने का दुस्साहस करने लगे हैं। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल: BJP को उपचुनाव में जहां मिली थी बढ़त-वहीं पर फूट, कांग्रेस में शामिल हुए दर्जनों

इस बीच क्षेत्र में पुलिस टीम ने रेड कर मौके पर मौजूद तीन ट्रैक्टर चालकों को दबोचने में सफलता हासिल की। हालांकि, पुलिस को देख मौके पर से करीब 10 ट्रैक्टर चालक फरार हो गए। मिली जानकारी के मुताबिक आज सुबह ही पांवटा साहिब डीएसपी वीर बहादुर के नेतृत्व में पुल के पास रेड की गई थी। 

इस दौरान टीम द्वारा मौके पर अवैध खनन करने में जुटे एक ट्रैक्टर चालक मालिक के खिलाफ आईपीसी की धारा 379 के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है। बताया जा रहा है कि आरोपित ट्रैक्टर चालक उत्तराखंड के कुल्हाल का रहने वाला है। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल: मेडिकल कॉलेज जा रही गर्भवती पर भरभरा कर गिरे पत्थर, पति भी था साथ में

फिलहाल के लिए पुलिस द्वारा खनन विभाग से जानकारी मांगी गई है कि क्या ये तीन ट्रैक्टर लीज पर दिए गए भूखंड में ही माइनिंग कर रहे थे या नहीं। इसके साथ ही पुलिस विभाग की ओर से वन व खनन विभाग से आग्रह किया गया है कि माइनिंग लीज के अंतर्गत आती भूमि को चिन्हित किया जाए ताकि पुलिस द्वारा अवैध खनन करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करते वक्त कोई कन्फ्यूजन पैदा ना हो।

यह भी पढ़ें: मनाली में बवाल-सड़क पर बैठे लोग: 5 किमी लंबी वाहनों की लाइनें लगी, समझें क्या है माजरा

इस संबंध में जानकारी देते हुए डीएसपी वीर बहादुर सिंह ने बताया कि दो दिन में अवैध खनन करने वाले तीन ट्रैक्टरों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि लगभग 6 ट्रैक्टरों को वन व खनन विभाग द्वारा जब्त किया गया।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ