विधानसभा के बाहर जुटे NPS कर्मियों को झटका: सरकार बहाल नहीं करेगी पुरानी पेंशन योजना

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

विधानसभा के बाहर जुटे NPS कर्मियों को झटका: सरकार बहाल नहीं करेगी पुरानी पेंशन योजना


धर्मशाला।
हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले के अंतर्गत आते धर्मशाला के तपोवन में विधानसभा शीतकालीन सत्र के दूसरे दिन विधानसभा के बाहर पुरानी पेंशन बहाली को लेकर एनपीएस कर्मचारियों ने दाड़ी मैदान में हल्ला बोल दिया। इस दौरान हजारों की संख्या में यहां इकट्ठे हुए प्रदर्शनकारियों ने प्रदेश सरकार को चेताया कि सरकार ने अगर इस मुद्दे पर आज तत्काल निर्णय नहीं लिया तो कर्मचारी विधानसभा का घेराव भी कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें: हिमाचल: एयर हॉस्टेस की ट्रेनिंग के बाद पूरा कर रहीं बचपन का शौक, ट्रक दौड़ा रही

इसके बाद अब खबर सामने आ रही है कि सदन के भीतर सरकार ने एक बार फिर इन कर्मचारियों की उम्मीदों को झटका दे दिया है. बतौर रिपोर्ट्स, सत्र के पहले दिन की सरकार ने पुरानी पेंशन स्कीम को लागू करने से साफ इंकार कर दिया है। 

यह भी पढ़ें: CM जयराम ने दी शहीद विवेक कुमार को श्रद्धांजलि, दस लाख तय नौकरी देने पर भी विचार!

सीएम जयराम ठाकुर ने आज विधानसभा में विधायक मुकेश अग्निहोत्री, राम लाल ठाकुर, सुखविंद्र सिंह और जगत सिंह नेगी द्वारा पूछे गए संयुक्त प्रश्न संख्या 3800 के जवाब में जानकारी देते हुए बताया कि मौजूदा स्थिति को देखते हुए प्रदेश में पुरानी पेंशन स्कीम को लागू करना संभव नहीं है। अगर इसे लागू करते हैं तो इससे सरकार पर सालाना 500 करोड़ रुपए का आर्थिक बोझ पड़ेगा। 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ