हिमाचली बेटी ने बिना कोचिंग पास की एम्स परीक्षा, बनी नर्सिंग ऑफिसर; गांव से पढ़ी ...

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

हिमाचली बेटी ने बिना कोचिंग पास की एम्स परीक्षा, बनी नर्सिंग ऑफिसर; गांव से पढ़ी ...

सिरमौरः हिमाचल प्रदेश के युवा हर क्षेत्र में अपनी प्रतिभा का परिचय देते हुए अपने इलाके सहित पूरे प्रदेश का नाम रोशन कर रहे हैं। ऐसा ही कर दिखाया है सिरमौर जिले से ताल्लुक रखने वाली श्वेता शर्मा ने। 

बता दें कि 20 नवंबर 2021 में हुई ऑल इंडिया इंस्टिट्यूट ऑफ़ मेडिकल साइंस ( एम्स) की परिक्षा को बिना किसी कोचिंग के पास कर श्वेता नर्सिंग ऑफिसर बनी है। 

हासिल की 2196वां रैंक:

मिली जानकारी के मुताबिक पच्छाद विधानसभा क्षेत्र के तहत पड़ते मानगढ़ की रहने वाली श्वेता शर्मा ने एम्स परिक्षा को पास कर पूरे देश भर में 2196 रैंक हासिल किया है। उनकी इस उपलब्धि से पूरे इलाके में खुशी की लहर दौड़ पड़ी है। 

यह भी पढ़ें: हिमाचलः सीएम आवास के पास महिला को दिखा तेंदुआ, शौचालय गई थी भागकर बचाई जान

वहीं, श्वेता के माता-पिता अपनी बेटी की सफलता पर बेहद खुश हैं। श्वेता ने भी अपनी इस सफलता का श्रेय अपने माता-पिता व गुरुजनों को दिया है। श्वेता का कहना है कि अपने माता-पिता और गुरुजनों के सहयोग व मार्गदर्शन से ही उन्होंने बिना किसी कोचिंग के ये सफलता हासिल की है।

गांव से की थी पढ़ाई:

बता दें कि श्वेता शर्मा ने गांव के ही एक स्कूल से अपनी प्रारंभिक शिक्षा प्राप्त करने के बाद कुरुक्षेत्र स्थित गुरुकुल कन्या स्कूल से मेडिकल साइंस में 12 वीं की पढ़ाई पूरी की। इसके उपरांत उसने नर्सिंग की पढ़ाई मुरारलाल मेमोरियल नर्सिंग कॉलेज से ग्रहण की।

वहीं, अब श्वेता ने 20 नवंबर को हुई एम्स की परिक्षा में 97.75 प्रतिशत नंबर प्राप्त कर देशभर में 2196 रैंक हासिल किया है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ