हिमाचलः जन्म से नहीं दायां हाथ, फिर भी पास किए तीन टाइपिंग टेस्ट, पाई तीन सरकारी नौकरियां

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

हिमाचलः जन्म से नहीं दायां हाथ, फिर भी पास किए तीन टाइपिंग टेस्ट, पाई तीन सरकारी नौकरियां

सिरमौरः कहते हैं कि इरादे अगर बुलंद हो तो मंजिल तक पहुंचने में कितनी ही रुकावटें क्यों ना आ जाएं इंसान उसे हंसते-हंसते पार कर ही लेता है। ऐसा ही कर दिखाया है प्रदेश के सिरमौर जिसे स्थित शिलाई उपमंडल के तहत पड़ते गांव कलोग से ताल्लुक रखने वाले विनोद कुमार ने। 

निकाली तीन सरकारी नौकरी:

बता दें कि हाल में हिमाचल प्रदेश कर्मचारी चयन आयोग द्वारा विभिन्न पोस्ट कोड के अंतर्गत ली गई परिक्षाओं के परिणाम घोषित किए हैं। इन परिक्षाओं में विनोद कुमार ने तीन परीक्षाओं के टाईपिंग टेस्ट पास कर तीनों सरकारी नौकरियां अपनी झोली में डाली हैं। खास बात तो ये है कि विनोद का एक हाथ नहीं है बावजूद इसके उन्होंने तीनों टाइपिंग टेस्ट पास किए हैं। 

यह भी पढ़ें: शराब ठेके में बैठ दूध पी रहे विक्रमादित्य, कांग्रेस की लड़ाई पर डिप्टी स्पीकर ने ली चुटकी; जानें मामला

बताया जा रहा है कि विनोद कुमार ने एचआरटीसी में लेजर कीपर व स्टोर कीपर तो फारेस्ट विभाग में अकाउंटेंट की परीक्षा पास की है। जन्म से ही बीना हाथ के पैदा हुए विनोद के लिए ये सफलता बेहद खास है। क्योंकि उन्होंने कभी भी अपने कमजोरी को अभिशाप बनने नहीं दिया। 

पढाई में बेहतर हैं विनोद:

मिली जानकारी के मुताबिक विनोद पढ़ाई लिखाई में काफी बेहतर हैं और उन्होंने कॉलेज के समय में भी कई विषयों में प्रथम स्थान हासिल किया है। विनोद कुमार के पिता केदार सिंह मिस्त्री हैं जबकि माता शिबी गृहणी हैं। 

बेटे की तीन सफलताओं पर परिजन ही नहीं बल्कि पूरे इलाका बासी काफी खुश हैं। हालांकि, विनोद अभी तक यह तय नहीं कर पाए हैं कि वह किस पद पर अपनी सेवाएं देंगे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ