जयराम कैबिनेट की बैठक कल: लग सकती है ये 'पांच' पाबंदियां, आउटसोर्स कर्मी होंगे रेगुलर!

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

जयराम कैबिनेट की बैठक कल: लग सकती है ये 'पांच' पाबंदियां, आउटसोर्स कर्मी होंगे रेगुलर!

शिमलाः हिमाचल प्रदेश में आगामी 5 जनवरी यानी कल बुधवार को मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की अध्यक्षता में मंत्रिमंडल की बैठक का आयोजन किया जाना है। मंत्रीमंडल की यह बैठक इस नए साल की पहली बैठक होगी।

आउटसोर्स हो सकते हैं रेगुलर:

कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों व ओमीक्रोन के खतरे के बीच राज्य सचिवालय में होने जा रही इस बैठक को काफी अहम माना जा रहा है। 

प्रदेश में कोरोना संक्रमितों की तादाद में हो रहे इजाफे को मद्देनजर रखते हुए कल कैबिनेट की बैठक में जयराम सरकार कोरोना संबंधित कुल पांच पांबिदया लगा सकती है। बैठक में प्रदेश के हजारों आउटसोर्स कर्मचारियों को रेगुलर करने के मामले पर भी चर्चा हो सकती है। 

जानें क्या होगें चर्चा के विषय:

  • कैबिनेट बैठक में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों की रोकथाम के लिए पाबंदिया लगाने पर फैसला हो सकता है।
  • प्रदेश के हजारों आउटसोर्स कर्मचारियों को रेगुलर करने मामले के संबंध में भी मंत्रिमंडल चर्चा कर सकता है। 
  • इसके साथ ही कैबिनेट की बैठक में नई खेल नीति पर चर्चा हो सकती है।
  • पुरानी पेंशन बहाली के मामले पर भी कैबिनेट में निर्णय लिया जा सकता है।
  • पुलिस कांस्टेबलों को संशोधित पे बैंड आठ के बजाय दो साल में देने की मांग पर भी कल मंत्रिमंडल की बैठक में मुहर लग सकती है।
  • स्वर्णिम दृष्टिपत्र की घोषणाओं के कार्यान्वयन की भी कैबिनेट में समीक्षा हो सकती है। 
  • इसके अलावा अगले बजट सत्र को लेकर भी कैबिनेट में विचार-विमर्श हो सकता है। 

कहां लग सकती हैं पाबंदियां:

  • विवाह व सामाजिक समारोह में शामिल होने वाले लोगों की संख्‍या पर अंकुश लग सकता है। 
  • कार्यक्रम में लोगों के शामिल होने की संख्‍या तय हो सकती है। सार्वजनिक भंडारों व लंगरों पर पाबंदी लग सकती है।
  • सरकार छोटे बच्‍चों के स्‍कूल बंद करने का निर्णय ले सकती है। 
  • प्रदेश में प्रवेश के लिए कोविड वैक्‍सीन की दोनों डोज लगाने की शर्त लागू हो सकती है। 
  • पर्यटकों व मंदिरों में आने वाले पड़ोसी राज्‍यों के लोगों के लिए वैक्‍सीनेशन अनिवार्य की जा सकती है।
  • पर्यटन स्‍थलों में पर्यटकों के आने व घूमने को लेकर कुछ बंदिशें लग सकती हैं। 
  • नो मास्‍क नो सर्विस भी एक बार फ‍िर से प्रदेश में सख्‍ती से लागू हो सकती है।

वहीं, बात करें देश की राजधानी दिल्ली को तो वहां वीकेंड कर्फ्यू लगा दिया गया है जबकि नाईट कर्फ्यू पहले ही ही लगा हुआ है। इसी कड़ी में हिमाचल प्रदेश के पड़ोसी राज्य हरियाणा व उत्तराखंड में भी पहले से ही नाईट कर्फ्यू लगा हुआ है। 

यह भी पढ़ें: HRTC के लिए 'अ-मंगलवार' : दिन में दूसरी बार हुई टक्कर, तीन बसें क्षतिग्रस्त

जबकि पंजाब में भी अब नाईट कर्फ्यू सहित स्कूल कॉलेज बंद कर दिए गए हैं। ऐसे में अब हिमाचल सरकार भी कल होने जा रही कैबिनेट की बैठक में कोरोना संबंधित बंदिशें लगा सकती है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ