हिमाचल: बर्फ़बारी में एडवेंचर बना जानलेवा- दो घरों के चिराग बुझे, दो अस्पताल में गिन रहे सांसें

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

हिमाचल: बर्फ़बारी में एडवेंचर बना जानलेवा- दो घरों के चिराग बुझे, दो अस्पताल में गिन रहे सांसें


कांगड़ाः
हिमाचल प्रदेश में ट्रैकिंग पर निकले चार युवकों के लापता होने की सूचना के बाद से ही पुलिस टीम द्वारा सर्च अभियान चलाया गया था। दो दिन तक चले इस सर्च अभियान में पुलिस टीम ने चारों युवकों को रेस्कयू कर लिया है। परंतु दुख की बात ये है कि कड़ाके की ठंड के चलते दो युवकों की मौत हो गई है जबकि अन्य दो को उपचार हेतु क्षेत्रिय अस्पताल पहुंचाया गया है। 

मामला प्रदेश के कांगड़ा जिले स्थित जिला मुख्यालय धर्मशाला के तहत पड़ते राइजिंग स्टार हिल टॉप के पीछे स्लाइडिंग जोन का है। एक ही क्षेत्र के दो जवान बेटों की मौत हो जाने के चलते क्षेत्र में शोक की लहर दौड़ पड़ी है। 

ये रही मृतकों की पहचान 

मृतक युवकों की पहचान रोहित पुत्र परमजीत व मोंटी धीमान निवासी नूरपुर के रूप में हुई है। मिली जानकारी के मुताबिक़ बीते शनिवार शाम स्लेट गोदाम के रहने वाले रोहित (18), सत्यम (17) व रोहित (16) और मोंटी धीमान धौलाधार की पहाड़ियों में गिरी बर्फ की सफेद चादर के बीच एडवेंचर के लिए निकले थे। 

एडवेंचर के बीच हो गई बर्फ़बारी और..

इस दौरान हुई भारी बर्फबारी के बीच चारों युवक रास्ता भटक गए। इस दौरान किसी तरह उन्होंने अपने लापता होने की सूचना परिजनों को दी थी। इसके बाद परिजन, स्थानीय लोग और रेस्क्यू टीमों ने लापता युवकों को ढूंढने के लिए सर्च ऑपरेशन चलाया था। 

रेस्क्यू टीम ने रोहित व सत्यम को पहले रेस्क्यू कर अस्पताल पहुंचाया। इसके बाद रोहित और मोंटी धीमान को देर रात रेस्क्यू कर लिया गया था लेकिन रास्ते में ही दोनों की मौत हो गई। जिनके शवों को कब्जे में लेकर पुलिस टीम द्वारा पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

मामले की पुष्टि एसपी कांगड़ा डॉ खुशहाल शर्मा ने की है। उन्होंने लोगों से अपील की है कि बर्फबारी के चलते लोग ऊपरी क्षेत्रों की ओर न जाएं।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ