हिमाचल: पिता-पुत्र बने नटवर लाल, पंचायत घर ही बेच दिया- वो भी राजस्थानी को, 9 साल बाद खुली पोल

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

हिमाचल: पिता-पुत्र बने नटवर लाल, पंचायत घर ही बेच दिया- वो भी राजस्थानी को, 9 साल बाद खुली पोल


हमीरपुरः
हिमाचल प्रदेश में जिला परिषद उपाध्यक्ष व उनके बेटे पर पंचायत घर को राजस्थान के किसी व्यक्ति को बेचने का आरोप लगा है। मामला प्रदेश के हमीरपुर जिले स्थित सासन पंचायत का है। 

उपाध्यक्ष ने प्रधान रहते बेचा था पंचायत घर

मिली जानकारी के मुताबिक सासन पंचायत के एक व्यक्ति बलबीर ने हमीरपुर प्रशासन के पास पिता-पुत्र के खिलाफ पंचायत घर बेचने को लेकर शिकायत दर्ज करवाई है। प्रशासन को दी शिकायत में बलबीर ने बताया कि साल 2013 में जिला परिषद हमीरपुर के उपाध्यक्ष नरेश कुमार दर्जी ने प्रधान रहते हुए अपने बेटे रविंद्र कुमार दर्जी के साथ मिलकर सरकारी पंचायत घर को राजस्थान के एक व्यक्ति को बेच दिया है। 

प्रशासन ने जांच के लिए पुलिस को सौंपा मामला-

बताया जा रहा है कि उस समय पंचायत घर एक सराय में चल रहा था जो कि सरकारी थी। इस मामले में जमीन के खरीद फरोख्त में वित्तीय लेनेदेन के तथ्य भी सामने आए हैं। प्रारंभिक जांच में तथ्यों की पुष्टि होने पर हमीरपुर प्रशासन की ओर से मामले को पुलिस में फॉरवर्ड किया गया है। मामले के संबंध में पुलिस ने जिला परिषद उपाध्यक्ष व उनके बेटे के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है।

जानें क्या बोलीं डीसी हमीरपुर देव स्वेता बनिक-

 इस मामले में डीसी हमीरपुर देव स्वेता बनिक ने जानकारी देते हुए बाताया कि शिकायत मिलने के बाद प्रारंभिक छानबीन करने के बाद केस को एसपी ऑफिस को फॉरवर्ड किया गया है। आगामी दिनों में मामले में नियमों के अनुसार कार्रवाई की जाएगी। 

उन्होंने बताया कि यह धारा 118 की अवहेलना जांच का विषय है, जिसमें प्रारंभिक छानबीन की गई, लेकिन इसमें सभी पक्षों की सुनवाई करने के बाद अंतिम फैसला होगा।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ