हिमाचल: एक जिले में 4 मौतें, दो महिलाएं भी शामिल, कोई मृत मिला-किसी की बिगड़ी थी तबियत

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

हिमाचल: एक जिले में 4 मौतें, दो महिलाएं भी शामिल, कोई मृत मिला-किसी की बिगड़ी थी तबियत


कुल्लूः
हिमाचल प्रदेश में दो महिलाओं सहित कुल चार लोगों की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत होने की खबर सामने आई है। ये मौतें कुल्लू जिले स्थित मनाली भुट्टी, सरवरी व आनी स्थित रघुवीर स्टेडियम में हुई है। पुलिस द्वारा इन चारों मामलों में मृतकों के शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत के असल कारणों का पता चल पाएगा।

स्कूल के डीपीई की बिगड़ी तबियत- अस्पताल ले जाते गई जान

मिली जानकारी के मुताबिक पहला मामला कुल्लू जिले स्थित राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला भुट्टी का है। जहां डीपीई झाबे राम पुत्र लच्छी राम निवासी भुट्टी की अचानक से तबियत बिगड़ने के कारण उसे उपचार हेतु क्षेत्रिय अस्पताल पहुंचाया गया। परंतु तब तक काफी देर हो चुकी थी। मौके पर मौजूद चिकित्सों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

स्टेडियम से बरामद हुआ महिला का शव

जिले में दूसरा मामला आनी उपमंडल मुख्यालय से सामने आया है। जहां राजा रघुवीर स्टेडियम में एक महिला का शव बरामद हुआ है, जिसकी सूचना स्थानीय लोगों ने पुलिस को दी। मृतक महिला नेपाली मूल की बताई जा रही है, जिसकी उम्र 40 से 45 वर्ष के करीब है।  पुलिस द्वारा शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया गया है।

किराए के मकान में पड़ा मिला मृत

तीसरा मामला पर्यटन नगरी मनाली से रिपोर्ट हुआ है। जहां किराए के मकान में रहने वाले एक शख्स की अचानक से मौत हो गई। मृतक की पहचान 42 वर्षीय सीताराम निवासी रोपा जिला मंडी के तौर पर हुई है। मामले के संबंध में पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। 

अचानक बिगड़ी तबियत, अस्पताल ले जाते टूटा दम

उधर, चौथा मामला जिले के शाड़ाबाई का है। जहां नेपाली मूल की एक 41 वर्षीय महिला कमला पत्नी प्रेम का अचानक तबियत विगड़ जाने के कारण उसे उपचार हेतु क्षेत्रिय अस्पताल पहुंचाया गया। परंतु तब तक काफी देर हो चुकी थी। मौके पर मौजूद चिकित्सकों ने महिला को मृत घोषित कर दिया। 

इन मामलों में पुलिस द्वारा पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने का इंतजार किया जा रहा है ताकि मामलों के संबंध में आगामी कार्रवाई अमल में लाई जा सके। पुलिस अधीक्षक गुरदेव शर्मा ने इन मामलों की पुष्टि की है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ