हिमाचलः स्वास्थ्य सचिव के अनुमान से भी बड़ा है कोरोना, महीने के अंत तक 5000 से बहुत ज्यादा

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

हिमाचलः स्वास्थ्य सचिव के अनुमान से भी बड़ा है कोरोना, महीने के अंत तक 5000 से बहुत ज्यादा



शिमलाः हिमाचल प्रदेश में कोरोना संक्रमण का कहर एक बार फिर बढ़ने लगा है। आए दिन कोरोना संक्रमितों की संख्या में बढोतरी दर्ज की जा रही है। हाल ही में प्रदेश में फेसटिव सीजन खत्म हुआ है। ऐसे में क्रिसमस व न्यू ईयर सेलिब्रेट करने के लिए हजारों की संख्या में बाहरी राज्यों व विदेशों से पर्यटक हिमाचल पहुंचे हुए थे। इस दौरान प्रशासन की ओर से कोरोना संबंधित कोई कड़ी पाबंदिया लागू नहीं की गई। 

5 हजार के पार होने थे, 3 ही दिन में करीब 600 मामले बढ़े 

वहीं, अब प्रदेश में कोरोना के बढ़ते मामले एक बार फिर सरकार व प्रशासन के लिए चिंता का विषय बन गया है। पहले से अनुमान लगाया जा रहा था कि इस महीने के अंत तक संक्रमण के मामले 5 हजार पार हो जाएंगे, लेकिन दो दिन के भीतर कोरोना मामलों में आई बढ़ोतरी को देखकर लग रहा है कि ये आंकड़ा अनुमानित आंकडे को भी पीछे छोड़ने वाला है। 

स्वास्थ्य सचिव ने कहा था 20 दिनों में होगा भारी इजाफा 

इस संबंध में स्वास्थ्य सचिव अमिताभ अवस्थी ने बताया था कि आने वाले 20 दिनों में हिमाचल में संक्रमण के मामलों में भारी इजाफा होगा। इतना ही नहीं जनवरी माह के अंत तक प्रदेश भर में कुल एक्टिव केस 5 हजार तक पहुंच जाएंगे। उनकी इस स्टेटमेंट के बाद दो दिन के भीतर ही प्रदेश में कोरोना के सक्रिय मामलों का आंकड़ा 1216 के पार हो गया, जबकि अभी तो इस महीने को समाप्त होने में पूरे 24 दिन बाकी हैं। 

तीन दिन में तेजी से बढ़े मामले 

ऐसे में संक्रमितों की संख्या में आया उछाल एक गंभीर चिंता का विषय बना हुआ है। गौरतलब है कि बीते सोमवार को प्रदेश भर में कोरोना संक्रमण के 136 नए मामले रिपोर्ट हुए थे, जबकि मंगलवार को 250 तो बीते बुधवार को यह यह आकंड़ा 300 से अधिक मामलों के साथ एक्टिव मामलों की संख्या 1200 अधिक हो गई है। वहीं, कोरोना वायरस के मामलों में आई तेजी की वजह कहीं ना कहीं कोरोना का नया वायरस ऑमीक्रोन को माना जा रहा है। 

दूसरी लहर की पीक से ज्यादा है आर नॉट वैल्यू

ऐसे में संक्रमण के फैलने की गति को दर्शाने वाला पैमाना यानी आर नॉट वैल्यू की बात करें तो ये संख्या इस बार महामारी की दूसरी लहर से भी ज्यादा है। कोरोना की दूसरी लहर के चरम के दौरान यह वैल्यू 1.69 आंकी गई थी। वहीं, अब यह आर नॉट वैल्यू 2.69 दर्शाई जा रही है जो वाकई बहुत ज्यादा है। ऐसे में सरकार व प्रशासन की ओर से लोगों को सतर्क रहने के साथ-साथ कोरोना गाइडलाइन का पालन करना व प्रॉपर मास्क पहनने की हिदायत दी जा रही है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ