हिमाचल: गाड़ियों को काटकर कबाड़ में बेच देता था गिरोह, युवाओं की सतर्कता से हुआ भांडाफोड़

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

हिमाचल: गाड़ियों को काटकर कबाड़ में बेच देता था गिरोह, युवाओं की सतर्कता से हुआ भांडाफोड़


शिमलाः
हिमाचल प्रदेश में चोरी की गाड़ियों का कबाड़ बना कर उन्हें बेचने वाले गिरोह का फंडाफोड़ करते हुए कुछ युवकों ने एक आरोपित को धर दबोचा। जबकि दो आरोपित रात के अंधेरे का फायदा उठा कर मौके से फरार हो गए। इस संबंध में युवकों ने पुलिस को भी सूचित किया परंतु रात बीतने के बाद भी पुलिस मौके पर नहीं पहुंची। इस संबंध में स्थानीय पंचायत प्रधान ने पुलिस पर लापरवाही के आरोप जड़े हैं। 

गानिया के युवकों ने पकड़ा-

मिली जानकारी के मुताबिक राजधानी शिमला स्थित मशोबरा ब्लॉक की पीरन पंचायत के गानिया में कुछ युवकों ने अजनबी लोगों को महिन्द्रा  D 3200 टेंपो की चैसी काटकर कबाड़ बनाया जा रहा था। ताकि उसे बेचा जा सके। इस दौरान गानिया के युवाओं को उनपर शक हुआ और उन्होंने इस संबंध में अजनबी लोगों से सवाल-जबाव पूछना शुरु कर दिया। 

मौके से भागे दो आरोपित, एक को युवकों ने धर दबोचा-

इस पर रात के अंधेरे का फायदा उठा कर दो आरोपित (राकेश व संजू) मौके से फरार हो गए, जबकि गाड़ी की चैसी काट रहे मिस्त्री राजू को युवकों ने मौके पर पकड़ लिया। बताया जा रहा है कि आरोपितों द्वारा गाड़ी को चला कर पहले गानिया लाया गया। इसके बाद उनके द्वारा वहां वाहन का नंबर मिटाकर इंजन व अन्य हिस्सों को खोला जा रहा था। इसके लिए वे छैला से मिस्त्री लेकर आए थे।

रात भर नहीं पहुंची पुलिस-

मिस्त्री के हथे चढ़ने के बाद युवकों ने रात करीब 10 बजे जुन्गा पुलिस को मामले के संबंध में सूचित किया। परंतु देर रात तक कोई पुलिस मौके पर नहीं पहुंची। इसके उपरांत उन्होंने पुलिस हेल्पलाइन शिमला में इसकी शिकायत दी। शिकायत के 12 घंटे बाद पुलिस शनिवार को मौके पर पहुंची। जबकि इलाके के युवकों को पूरी रात सर्दी में गाड़ी की रखवाली कर बितानी पड़ी। 

युवाओं का आरोप है कि ट्रहाई गावं से कुछ किसानों की लिफ्टों की तारें व अन्य सामान कई बार गायब हो चुका है। उनका आरोप है कि इसी गिरोह का यह कार्य हो सकता है। इतना ही नहीं पुलिस की देरी पर स्थानीय प्रधान किरण शर्मा भड़क गई और उन्होंने पुलिस की इस गंभीर लापरवाही पर सवाल उठाए हैं। इस संबंध में जानकारी देते हुए पुलिस चौकी जुन्गा के थाना प्रभारी ने बताया कि गाड़ी में पेट्रोल न होने पर रात को पुलिस मौके पर नहीं पहुंच पाई थी।

जबकि मामले के संबंध मे एएसआई महेन्द्र सिंह ने बताया कि उन्होंने पश्चिमी बंगाल के रहने वाले मिस्त्री राजू को हिरासत में ले लिया गया है, जबकि दो फरार चल रहे आरोपितों राकेश व संजू की तलाश जारी है। साथ ही उन्होंने बताया कि यह गाड़ी जुब्बल थाना के सरस्वती नगर से गाड़ी (HP10A-2736) बीते तीन जनवरी को गुम हुई है, जिसकी रिपोर्ट जुब्बल थाना में दर्ज है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ