सुखराम परिवार को बड़ा झटका: आश्रय को 'निष्क्रीय' बताकर रानी ने चेतराम को बना दिया कैंडिडेट

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

सुखराम परिवार को बड़ा झटका: आश्रय को 'निष्क्रीय' बताकर रानी ने चेतराम को बना दिया कैंडिडेट


मंडी
। हिमाचल प्रदेश और मंडी जिले की राजनीति में अपना एक रसूख रखने वाले पूर्व केंद्रीय मंत्री पंडित सुखराम के परिवार को एक बड़ा झटका लगा है। दरअसल, मंडी संसदीय क्षेत्र की सांसद प्रतिभा सिंह ने सीएम जयराम ठाकुर के गृह विस क्षेत्र सराज के बाखली स्थित देवी बगलामुखी मंदिर में एक बैठक के दौरान पूर्व प्रत्याशी ठाकुर चेतराम को वर्ष 2022 में कांग्रेस का भावी उम्मीदवार घोषित कर दिया। 

आश्रय को जनता ने भी नकारा
25 जनवरी देर शाम चेतराम समर्थकों की बैठक में प्रतिभा सिंह ने सुखराम परिवार पर भी निशाना साधा और कहा कि आनन-फानन 2019 में सुखराम के पोते आश्रय को हाईकमान ने टिकट दिया। वह राजनीति में सक्रिय नहीं थे, जिसको न केवल कार्यकर्ताओं बल्कि जनता ने भी नकारा और करीब चार लाख मतों से हार गए। चुनाव नहीं लड़ना था, लेकिन कार्यकर्ताओं का मान रखते हुए इस दफा चुनाव लड़ा और करीब बड़ी लीड कवर करने के अलावा आठ हजार मत अधिक लिए। यह चुनाव एवरेस्ट पर चढ़ने जैसे था। 

वीरभद्र का सपना था चेतराम हों सराज से विधायक
उन्होंने कहा कि स्वर्गीय वीरभद्र सिंह का सपना था कि चेतराम सराज के विधायक होने चाहिए। वीरभद्र सिंह के सपने को 2022 में साकार किया जाएगा।

कांग्रेस में मचा हड़कंप
इसका एक वीडियो भी वायल हो रहा है। उधर, इस बयान के बाद कांग्रेस में हडकंप मचा है। चेतराम को मिले समर्थन और सुखराम परिवार पर निशाना साधने के कई मायने निकाले जा रहे हैं। कांग्रेस का एक खेमा इस बयान को लेकर मुखर हो गया है। 

कांग्रेस नेताओं ने की रानी की भर्त्सना
नेता विजय पाल सिंह, महेंद्र ठाकुर और अन्य नेताओं ने विस चुनाव से पूर्व पार्टी हाईकमान की सलाह बगैर मंडी संसदीय क्षेत्र से सांसद प्रतिभा सिंह द्वारा पहला टिकट डिक्लेर करने की भर्त्सना की है। रानी प्रतिभा सिंह ने कहा है कि जिस प्रकार से प्रोजेक्ट सीएम धूमल को हराया गया ठीक उसी प्रकार जयराम को भी 2022 में कांग्रेस हराएगी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस एकजुट है और 2022 में भाजपा का सूपड़ा साफ करेगी।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ