हिमाचल: बर्फ़बारी के बीच नवजात को किया 'हनुमान' के हवाले, चली गई मासूम की जान

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

हिमाचल: बर्फ़बारी के बीच नवजात को किया 'हनुमान' के हवाले, चली गई मासूम की जान


कांगड़ाः
देवभूमि कहे जाने वाले हिमाचल प्रदेश में एक बार फिर ममता को शर्मसार करने वाला मामला सामने आया है। जहां एक नन्ही नवजात बच्ची को उसके स्वजनों द्वारा कड़ाके की ठंड में मंदिर में छोड़े जाने की खबर सामने आई है। बतौर रिपोर्ट्स, कोई अज्ञात व्यक्ति भारी बर्फबारी के बीच एक नवजात बच्ची को छोड़ गया। ठंड के कारण नवजात की मौत हो गई है और पुलिस ने मामले में जांच शुरू कर दी है। 

ग्रामीणों ने बच्ची को मंदिर में पड़े देखा-

मामला प्रदेश के कांगड़ा जिले स्थित जयसिंहपुर उपमंडत के तहत पड़ते कंगेहन के हनुमान मंदिर के पास का है। मिली जानकारी के मुताबिक आज सुबह जब स्थानीय लोग मंदिर की ओर से जा रहे थे तो उन्होंने मंदिर के प्रांगण में एक नन्ही बच्ची को कंबल में लिपटे हुए देखा। इस पर उन्होंने तुरंत पंचायत प्रधान को घटना के बारे में सूचित किया। जिन्होंने आलमपुर पुलिस थाने में इसकी जानकारी दी। 

वहीं, घटना की सूचना मिलने के उपरांत मौके पर पहुंची पुलिस ने घटनास्थल का जायजा लिया। इसके साथ ही मामले के संदर्भ में केस दर्ज कर आगामी कार्रवाई अमल में लाई जा रही है। फिलहाल पुलिस यह पता लगाने में जुटी हुई है की नन्ही बच्ची को किसने मंदिर के पास छोड़ा। 

पहले भी हो चुकी हैं इस तरह की आपराधिक वारदातें

बता दें कि यह पहली बार नहीं है जब इस तरह से किसी बच्चे को उसकी मां व पिता द्वारा छोड़ा गया है। इससे पहले भी मंडी जिले में खड्ड किनारे बच्ची को छोड़ने का मामला सामने आया था। जहां कड़ाके की ठंड का शिकार होकर बच्ची की जान चली गई थी। इसके अलावा बिलासपुर जिले में अस्पताल के समीप एक भ्रूण बरामद किया गया था। 

हालांकि, सोचने वाली बात ये है कि आखिरकार बच्चों के साथ हो रही इस तरह की आपराधिक वारदातें क्यों घटित हो रही है। जबकि अस्पताल में एक सेल ऐसा बनाया गया है जहां बच्चा ना चाहने के चलते माता-पिता उसे वहां छोड़ सकते हैं। परंतु बावजूद इसके इस तरह की घटनाएं सामने आ रही है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ