हिमाचल पुलिस की बड़ी सफलताः 2 किलो 744 ग्राम चरस संग पांच दबोचे, मलाणा का युवक भी शामिल

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

हिमाचल पुलिस की बड़ी सफलताः 2 किलो 744 ग्राम चरस संग पांच दबोचे, मलाणा का युवक भी शामिल


शिमलाः
हिमाचल प्रदेश में नशा तस्करी के मामले कहीं से भी थमते नजर नहीं आ रहे हैं। ताजा तीन मामले प्रदेश के अलग-अलग जिलों से रिपोर्ट हुए हैं। जहां पुलिस टीम ने गश्त के दौरान पांच लोगों के पास से 2 किलो 744 ग्राम चरस बरामद की है। 

इस पर कार्रवाई करते हुए पुलिस टीम ने एनडीपीएस एक्ट के तहत मामला दर्ज कर बरामद नशे को अपने कब्जे में लेकर आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है। फिलहाल पुलिस द्वारा मामले के संबंध में आगामी कार्रवाई अमल में लाई जा रही है। आईए एक-एक कर तीनों मामलों के बारे में जानते हैं। 

कुल्लू में दो लोगों के पास से मिली 1 किलो 221 ग्राम चरस

नशा तस्करी का पहला मामला प्रदेश के कुल्लू जिले से रिपोर्ट हुआ है। जहां पुलिस की विषेश टीम ने चोहकी बुर्जी मोड़ पर गश्त के दौरान दो व्यक्तियों के पास से 1 किलो 221 ग्राम चरस बरामद की है। आरोपितों की पहचान 50 वर्षीय हीरालाल पुत्र तुले बुरा निवासी नेपाल व 24 वर्षीय चंदे राम पुत्र बुदराम निवासी मलाणा के तौर पर हुई है। मामले की पुष्टि एसपी कुल्लू गुरुदेव शर्मा ने की है। 

कार सवार शख्स से बरामद हुई 993 ग्राम चरस

नशा तस्करी का दूसरा मामला प्रदेश के सिरमौर जिले से रिपोर्ट हुआ है। जहां पुलिस टीम ने गुप्त सूचना के आधार पर कार्रवाई करते हुए नाहन-पांवटा साहिब राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्थित शंभूवाला के पास नाकाबंदी के दौरान कार सवार शख्स के पास से 993 ग्राम चरस बरामद की है। किन्ही कारणों से अभी तक आरोपित की पहचान साझा नहीं की गई है। मामले की पुष्टि एसपी ओमपति जमवाल ने की है। 

कार सवार दो युवकों के पास मिली 530 ग्राम चरस

नशा तस्करी का तीसरा मामला प्रदेश के बिलासपुर जिले से सामने आया है। जहां सदर पुलिस थाना की टीम ने गश्त के दौरान कार सवार दो युवकों के पास से 530 ग्राम चरस बरामद की है। आरोपितों की पहचान 42 वर्षीय नवीन पुत्र प्रेम चंद निवासी कुल्लू व 30 वर्षीय हेमराज पुत्र खूब राम निवासी कुल्लू के तौर पर हुई है। 

पुलिस द्वारा नशा तस्करों को गिरफ्तार कर लिया गया है। फिलहाल पुलिस यह पता लगाने में जुटी हुई है कि आरोपितों के पास इतनी भारी मात्रा में नशा आया कहां से और वे इसे किसे बेचने जा रहे थे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ