हिमाचलः लोहड़ी की रात बहू-बेटे से तंग महिला घर से निकली, बाहर ठिठुरती रही नहीं आया कोई ढूंढने

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

हिमाचलः लोहड़ी की रात बहू-बेटे से तंग महिला घर से निकली, बाहर ठिठुरती रही नहीं आया कोई ढूंढने

ऊनाः हिमाचल प्रदेश में बहू की प्रताड़ना से परेशान होकर आश्रम के लिए निकली 85 वर्षीय वृद्ध महिला रास्ते में गलत जगह उतर गई। इस वजह से वृद्ध महिला को सर्दी के मौसम में पूरी रात बाहर ठंड में गुजारनी पड़ी। मामला प्रेश के ऊना जिले स्थित रैन बसेरा का है। वहीं, अगली सुबह स्थानीय दुकानदार ने जब महिला को ठिठुरता हुआ देखा तो तुरंत पुलिस व पंचायत प्रधान को दी। जिनकी मदद से वृद्ध महिला को एकल नारी कृषि सहकारी सभा में ठहराया गया।

मिली जानकारी के मुताबिक 85 वर्षीय सरस्वती देवी निवासी मवा सिंधियां बीते वीरवार की रात को बहू की प्रताड़ना से परेशान होकर बाबा बाल आश्रम के लिए निकली थीं, लेकिन रास्ते में पता ना चलने के कारण वह गलत ही स्टेशन पर उतर गईं। 

स्थानीय दुकानदारों ने बुजुर्ग महिला को कांपते हुए देखा

इस वजह से उन्हें पूरी रात ठंड में कांपते-ठिठुरते हुए बितानी पड़ी। इस दौरान अगली सुबह यानी शुक्रवार के दिन जब स्थानीय दुकानदारों ने बुजुर्ग महिला को कांपते हुए देखा तो इसकी सूचना उन्होंने तुरंत अपनी पंचायत के प्रधान सहित पुलिस को दी। 

इसके उपरांत लोगों की सहायता से वृद्ध महिला को घालुवाल स्थित एकल नारी कृषि सहकारी सभा में ठहराया गया। जहां सभा द्वारा सरस्वती देवी को खाना खिलाया गया व पहनने के लिए गरम कपड़े देने सहित उनकी स्वास्थ्य जांच भी करवाई गई।

पति की 30 साल पहले मृत्यु हो चुकी है

इस संबंध में जब बुजुर्ग महिला से पूछा गया तो उन्होंने बताया कि उसके पति की 30 साल पहले मृत्यु हो चुकी है। उनके बेटे व बहुएं उसे काफी सताते हैं और वह यहां-वहां रहकर जीवन यापन कर रही है। उनसे परेशान होकर ही वह यहां आई थी।

उधर, पुलिस ने महिला का बयान दर्ज कर लिया है और उन्हें फिलहाल के लिए आश्रम में रहने के लिए कहा है। पुलिस द्वारा बुजुर्ग महिला के परिजनों को भी सूचित कर दिया गया है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ