हिमाचली युवक की ईमानदारी: सड़क किनारे मिला नोटों से भरा बैग, मालिक को खोज लौटाया

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

हिमाचली युवक की ईमानदारी: सड़क किनारे मिला नोटों से भरा बैग, मालिक को खोज लौटाया

सोलन: हिमाचल प्रदेश के सोलन जिले से इंसानियत की मिसाल पेश करने वाली एक खबर सामने आई है। मिली जानकारी के अनुसार दो युवकों को सड़क किनारे दो लाख रुपए पड़े हुए मिले और उन्होंने काफी मेहनत से पैसे को असली हकदार तक पहुंचाए। 

दो लाख का बैग सड़क के बीचोबीच:

बता दें कि चेवा पंचायत निवासी हरीश और प्रवीण को ग्राम पंचायत क्षेत्र कोरो से पंथर को जाने वाली सड़क पर ये पैसे गिरे हुए मिले। ये दोनों युवक कोविड वैक्सीन का दूसरा डोज लेने जा रहे थे। 

इसी दौरान वार्ड मेम्बर प्रवीण कुमार को सड़क के बीचोबीच एक थैली दिखी। दोनों ने गाड़ी से उतरकर थैली को देखा तो उसमें दो-दो हजार के नोटों की गड्डियां थीं। 

इस तरह मिले पैसे के असली मालिक:

दोनों युवकों ने तय किया कि वैक्सीन लेकर आने के बाद वह इसकी सूचना प्रशासन और पंचायत को देंगे। उन्होंने पैसे अपने पास रखे और वैक्सीन की डोज लेने निकल पड़े।

वापस आने के दौरान उन्हें कुछ लोग सड़क पर बेचैन होकर कुछ खोजते हुए दिखे। उन्होंने गाड़ी रोककर पूछताछ की, कि आपका क्या खो गया है। क्या ढूंढ रहे हैं?

यह भी पढ़ें: HRTC बस से चिट्टे की खेप बरामद: न्यू ईयर पर आ रही थी लाखों की सप्लाई, दो तस्कर अरेस्ट

उन्होंने बताया कि उनका पैसा खो गया है और रकम बहुत ज्यादा थी इसलिए परेशान हैं। हरीश और प्रवीण ने पुष्टि के लिए रकम और कितने कितने की नोट थी। सभी जानकारी लेकर पुष्टि की। 

ईनाम के पैसे लेने से भी किया इनकार:

पुष्टि होने के बाद तत्काल पैसे निकालकर उनके हाथ में रख दिया। पैसे मिलने से उनकी खुशी  का ठिकाना नहीं रहा। उन्होंने बताया कि कुल 3 लाख रुपए थे। जिनमें दो लाख गिर गए थे। 

हरीश और प्रवीण की इस ईमानदारी की जानकारी जब पंचायत के लोगों को मिली तो सब उनके ईमानदारी की की तारीफ कर रहे हैं। वहीं, पैसे के असली मालिक भी ईनाम में पैसे दे रहे थे लेकिन उन्होंने पैसे लेने से मना कर दिया।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ