CM जयराम ने दी जानकारी: रिज मैदान को थी बम से उड़ाने की धमकी, हुई थी बैठक

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

CM जयराम ने दी जानकारी: रिज मैदान को थी बम से उड़ाने की धमकी, हुई थी बैठक

शिमला: रिज मैदान को बम से उड़ाने की साजिश की आशंका के बाद हिमाचल प्रदेश के भीड़भाड़ वाले इलाकों में अलर्ट जारी किया गया है। हिमाचल के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने ये जानकारी दी है। 

31 दिसंबर को हुई बैठक:

बता दें कि शनिवार को राजधानी शिमला में सीएम ने कहा कि रिज मैदान में बड़ी वारदात को अंजाम देने का इनपुट विश्वसनीय सूत्रों से मिला था। उन्होंने कहा कि इनपुट मिलने के बाद 31 दिसंबर को एक बैठक की गई। आम जनता और पर्यटकों की सुरक्षा के चलते रिज मैदान और मॉल रोड को खाली किया गया।

यह भी पढ़ें: हिमाचलः अनियंत्रित होकर खाई में लुढ़का टैंपो, 19 वर्षीय युवक को नहीं बचा सके डॉक्टर्स

मुख्यमंत्री ने कहा कि उसके बाद सभी एहतियाती कदम उठाए गए। सेना की भी मदद ली गई। चंडीगढ़ के चंडी मंदिर से बम निरोधक दस्ते को बुलाया गया था। 

उन्होंने कहा कि हिमाचल में जिन स्थानों पर भीड़ ज्यादा है, जहां पर पर्यटक काफी संख्या में हैं, वहां अलर्ट जारी किया गया है। सभी पर्यटन स्थलों पर एतियाती कदम उठाए गए हैं। सीएम ने कहा कि अलर्ट रहने की जरूरत है। कुछ तत्व अमन को भंग करने की फिराक में हैं।

बम से उड़ाने की थी धमकी:

बता दें कि 31 दिसंबर की शाम को राज्य सरकार को शिमला के रिज मैदान को नए साल के जश्न के दौरान बम से उड़ाने का इनपुट मिला था। यहां पर बम प्लांट करने की कोशिश की जाएगी। 

इस इनपुट के बाद पुलिस ने आनन-फानन में रिज मैदान को खाली करा लिया था। अब इसी आशंका के चलते पूरे प्रदेश में अलर्ट जारी कर दिया गया था।

110 सीसीटीवी कैमरे से निगरानी:

वहीं, कुछ देर पहले खबर सामने आई थी कि नयना देवी मंदिर में आने वाले हर सड़क में चौकसी बढ़ा दी गयी है तथा भाखड़ा डैम, केंची मोड़ तथा कोलां वाला टोबा में यात्रियों की चेकिंग करने के बाद ही भेजा जा रहा है। अस्त्र- शस्त्र लेकर जाने पर पूरी तरह से प्रतिबंध है। 

यह भी पढ़ें: हिमाचली युवक की ईमानदारी: सड़क किनारे मिला नोटों से भरा बैग, मालिक को खोज लौटाया

नारियल तथा कडाह प्रसाद को अंदर ले जाने पर पूरी पाबंदी लगाई गई है। यात्रियों को निकासी रास्ते से मंदिर के लिए भेजा जा रहा है। तथा पौडियों के रास्ते से यात्रियों को वापिस भेजा जा रहा है। लगभग 110 सीसीटीवी कैमरे हर गतिविधि पर नजर रख रहे हैं।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ