हिमाचल: कांग्रेस विधायक का बेबाक स्टाइल, BDO कार्यालय में घुस निकाली भ्रष्टाचार से जुड़ी फाइलें

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

हिमाचल: कांग्रेस विधायक का बेबाक स्टाइल, BDO कार्यालय में घुस निकाली भ्रष्टाचार से जुड़ी फाइलें

सिरमौर: मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर भ्रष्टाचार के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की नीति अपनाते हुए मनरेगा कार्यों की जांच करने टीम को भेजा तो मौके पर स्थानीय विधायक भी शिकायतों की फाइल उठाते नजर आए।

फाइल लेकर पहुंचे MLA:

बता दें कि मामला जिला सिरमौर के विकासखंड शिलाई का है। शिलाई विकास खंड में अनियमितताओं और भ्रष्टाचार का मामला काफी दिनों से सुर्खियां बटोर रहा था। जिसको लेकर मुख्यमंत्री तक भी शिकायत पहुंची थी।

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने मामले की गंभीरता को देखते हुए जांच का आदेश जारी किया। जिसके बाद अतिरिक्त उपायुक्त (ADC) सोनाक्षी सिंह तोमर की अध्यक्षता में एक विशेष टीम मंगलवार को जांच के लिए शिलाई पहुंची।

इस दौरान बीडीओ कार्यालय के दफ्तर से स्थानीय विधायक हर्षवर्धन चौहान सैकड़ों शिकायतों की फाइल निकालकर जांच अधिकारी के पास पहुंचे। ADC सोनाक्षी सिंह तोमर की टीम ने स्थानीय विधायक की मौजूदगी में कथित भ्रष्टाचार की जांच को लेकर रूपरेखा तैयार की। 

MLA ने दिया ये बयान:

विधायक हर्षवर्धन चौहान ने बताया कि मुख्यमंत्री से शिकायत के बाद भ्रष्टाचार की जांच की जा रही है। ब्लॉक कर्मचारीयों के द्वारा मनरेगा में भ्रष्टाचार की फ़ाइल को छुपाया जा रहा था। 

जिसके बाद मजबूरन उन्हें ख़ुद सैकड़ों फ़ाइल निकालकर जांच कमेटी के समक्ष रखनी पड़ी। विधायक ने उम्मीद जताई है कि कमेटी द्वारा निष्पक्षता के साथ हर पहलू को जांचा जाएगा।   

ADC करेंगी कार्रवाई:

अतिरिक्त उपायुक्त सोनाक्षी सिंह तोमर ने बताया की विधायक द्वारा प्रस्तुत लिखित शिकायत के आधार पर विभिन्न बिंदुओं के तहत जांच शुरू की गई है। जांच के दौरान खामियां सामने आती है तो जिम्मेदार लोगों पर नियमानुसार कार्यवाही अमल में लाई जाएगी।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ