हिमाचल को बजट में कुछ भी नहीं मिला: CM ने बताया- विकास को नई दिशा देने का दस्तावेज

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

हिमाचल को बजट में कुछ भी नहीं मिला: CM ने बताया- विकास को नई दिशा देने का दस्तावेज


शिमला।
केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने आज बजट 2022 पेश किया। इसमें इनकम टैक्स स्लैब में कोई बदलाव नहीं किया गया। किसानों, स्टार्टअप्स के लिए सरकार ने कई योजनाओं का ऐलान किया है। वहीं, इस बजट से हिमाचल के लोगों को मायूसी हाथ लगी है। हिमाचल कांग्रेस ने तो केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमन द्वारा प्रस्तुत बजट 2022 को आंकड़ों का मायाजाल बताया है। 

हिमाचल को निराशा ही हाथ लगी

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर मंडी में अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्‌डे की लंबे समय से बार-बार बात कर रहे हैं, लेकिन इसका भी केंद्रीय बजट में जिक्र तक नहीं किया गया। प्रदेश में पर्यटन की अपार संभावनाएं है। इसके लिए बजट में कुछ नहीं है। मोदी सरकार ने हिमाचल में 69 नेशनल हाईवे घोषित कर रखे हैं। 

इन NH को धरातल पर उतारने के लिए बजट में कुछ नहीं दिया गया। हिमाचल के बागवान अर्से से सेब पर आयात शुल्क बढ़ाने और प्रदेश में रेल नेटवर्क के विस्तार का का आग्रह कर रहे है। इन्हें लेकर भी हिमाचल को निराशा ही हाथ लगी है।

यहां पढ़ें CM जयराम बजट को लेकर क्या बोले 

वहीं, दूसरी तरफ मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने केन्द्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा आज वर्ष 2022-23 के लिये प्रस्तुत बजट को देश की अर्थ-व्यवस्था देने, किसानों, समाज के कमजोर वर्गों तथा विकास को नई गति देने की दिशा में एक कारगर दस्तावेज बताया है। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि यह बजट आधारभूत संरचना को सुदृढ़ करेगा तथा इसके साथ ही डिजिटल तकनीक के माध्यम से विकास की प्रक्रिया को समग्र और समावेशी बनायेगा। उन्होंने कहा कि यह बजट पूरे देश के साथ-साथ सभी राज्यों को भी आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में एक महत्वपूर्ण दस्तावेज सिद्ध होगा। 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ