हिमाचल की बेटी ने रचा इतिहास: देश में 106वां स्थान, बनेंगी सुपर स्पेशलिस्ट डॉक्टर

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

हिमाचल की बेटी ने रचा इतिहास: देश में 106वां स्थान, बनेंगी सुपर स्पेशलिस्ट डॉक्टर


रिकांगपिओ।
हिमाचल प्रदेश के जनजातीय जिले किन्नौर की एक बेटी देश भर में हिमाचल का नाम ऊंचा किया है। जिले के पूर्वनी गांव में जन्मी डॉ शिवांगी नेगी ने अपनी मेहनत और लगन से एनईईटी (NEET) सुपर स्पेशलिस्ट (SS) की परीक्षा में राष्ट्रीय स्तर पर 106 वां स्थान हासिल किया है। 

गेस्ट्रोएंट्रोलॉजी में डीएम करने वाली हिमाचल की पहली महिला डॉ 

बता दें कि गेस्ट्रोएंट्रोलॉजी में डीएम की परीक्षा पास करने वाली शिवांगी नेगी ऐसा करने वाली हिमाचल की पहली महिला डॉक्टर हैं। मौजूदा समय में शिवांगी नेगी प्रदेश के सबसे बड़े अस्पताल आईजीएमसी शिमला में रजिस्ट्रार (नेफ्रोलॉजी) के पद पर तैनात हैं। 

बैंक अधिकारी पिता की बड़ी बेटी हैं शिवांगी 

केवल 29 साल की छोटी से उम्र में शिवांगी नेगी ने इस बड़ी उपलब्धि को हासिल करने का सफ़र बचपन से ही शुरू कर दिया था। शिवांगी नेगी की शुरूआती शिक्षा शिमला से हुई है। 

इनके पिता सुरेंद्र अज़्यान पूर्वनी गांव में बैंक अधिकारी हैं और शिवांगी उनकि बड़ी बेटी हैं। शिवांगी की मां विद्युतमा अज़्यान गृहिणी है। शिवांगी की इस उपलब्धि से समूचा किन्नौर जिला गौरवान्वित महसूस कर रहा है। 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ