हिमाचल: बर्फबारी ने रोका गर्भवती का रास्ता, फ़रिश्ता बने स्वास्थयकर्मी- कार में गूंजी किलकारी

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

हिमाचल: बर्फबारी ने रोका गर्भवती का रास्ता, फ़रिश्ता बने स्वास्थयकर्मी- कार में गूंजी किलकारी


सिरमौर।
हिमाचल प्रदेश के अलग-अलग जिलों में आज बर्फ़बारी हुई। इस बीच बर्फबारी के कारण हरिपुरधार-सोलन मार्ग भी बंद हो गया, जिसके कारण वाहनों की आवाजाही भी बंद हो गई। इस दौरान शिमला की कुपवी तहसाल की धार चांदना पंचायत के भावत क्षेत्र में 22 साल की गर्भवती सरिता राजगढ़ से होते हुए सोलन जाने के दौरान रास्ते में फंस जाती हैं। 

स्थिति को भांपते हुए कार में ही कराया प्रसव 

तेज प्रसव पीड़ा के दौरान चाड़ना के समीप उनकी गाडी बंद हो जाती है। तभी उनके साथ मौजोद परिवारजनों को कहीं 108 के ईएमटी बलबीर का कांटेक्ट नंबर मिल जाता है। संपर्क साधने पर पता चलता है कि वो घर पर ही मौजूद थे। ऐसे में वो तुरंत मौके पर पहुंच जाते हैं और मौके की नजकात को भांपते हुए कार में ही प्रसव कराने का फैसला लेते हैं। 

बतौर रिपोर्ट्स, दोपहर के वक्त 1 बजे सरिता पत्नी लाल सिंह की गोद में बेटी की किलकारी गूंज उठती है। इस दौरान सीएचसी चाड़ना में तैनात स्वास्थ्य विभाग की टीम भी आ जाती है और जच्चा व बच्चा को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में पहुंचा दिया जाता है। बताया गया कि इस नन्ही परी व मां के स्वास्थ्य लाभ के लिए टीम में डॉ शोभित, हेल्थ वर्कर इन्द्रपाल, फार्मासिस्ट अंजना शर्मा व चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी शकुंतला की भी भूमिका प्रशंसनीय रही।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ