BJP का मिशन नगर निगम: चेतन बरागटा की होगी घर वापसी! CM से मुलाकात के बाद यह बोले- जानें

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

BJP का मिशन नगर निगम: चेतन बरागटा की होगी घर वापसी! CM से मुलाकात के बाद यह बोले- जानें


शिमला।
हिमाचल प्रदेश स्थित शिमला जिले के अंतर्गत आते जुब्बल कोटखाई विधानसभा क्षेत्र से बागी हुए चेतन बरागटा की दोबारा बीजेपी में वापसी हो सकती है। नगर निगम चुनावों से पहले चेतन बरागटा को दोबारा भाजपा में वापस लाने के लिए तैयारियां चल रही हैं। 

बतौर रिपोर्र्ट्स, हाल ही में चेतन बरागटा ने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर से मुलाकात भी की है। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर से मुलाकात के बाद इस बात के संकेत भी मिले हैं कि उन्हें जल्द भाजपा में वापस लिया जा सकता है। 

गौरतलब है कि मई महीने में नगर निगम शिमला के चुनाव होने है। नगर निगम शिमला के चुनावों से शहरों के वार्डो को 34 से बढ़ाकर 41 किया जाना है। ऐसे में नगर निगम चुनावों से पहले भाजपा की ओर से चेतन बरागटा को वापस पार्टी में लेने के आदेश जारी किए जाएंगे।

6 साल के लिए हुए थे निष्कासित 

ऐसा इसलिए क्योंकि चेतन बरागटा को पार्टी से बाहर रखने पर जुब्बल कोटखाई में हुए उपचुनावों की तरह नगर निगम चुनावों में भी भाजपा को नुकसान उठाना पड़ सकता है। चेतन बरागटा के पिता स्व नरेंद्र बरागटा का शहर में काफी दबदबा रहा है। वह शिमला शहरी विधानसभा क्षेत्र से विधायक भी रहे हैं। नगर निगम शिमला के ज्यादातर पार्षद उनके समर्थक रहे हैं। 

जुब्बल कोटखाई विधानसभा चुनावों में बतौर निर्दलीय लड़ रहे चेतन बरागटा को पार्टी के कार्यकर्ताओं और नगर निगम के पार्षदों का काफी सहयोग मिला है। अगर चेतन बरागटा को वापस लिया जाता है तो नगर निगम शिमला के चुनावों भाजपा को इसका फायदा मिल सकता है। गौरतलब है कि पार्टी से बगावत करने पर उन्हें भाजपा की द्वारा छह साल के लिए पार्टी से निष्कासित किया गया है। 

क्या कहते हैं चेतन

चेतन बरागटा का कहना है कि हाल ही मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के साथ उन्होंने मुलाकात हुई है। मुख्यमंत्री के साथ हुई मुलाकात में अच्छे संकेत मिले हैं। जल्द ही बिगड़ी हुई स्थिति ठीक होने के आसार हैं। उनका कहना है कि अगर पार्टी उन्हें वापस लेने के तैयार होगी, तो वह निश्चित रूप से पार्टी को ज्वाइन करेंगे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ