हिमाचलः उप-प्रधान हड़प रहा था मनरेगा मजदूरों का पैसा, DC ने लिया एक्शन; पद से हटाया

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

हिमाचलः उप-प्रधान हड़प रहा था मनरेगा मजदूरों का पैसा, DC ने लिया एक्शन; पद से हटाया

चंबाः हिमाचल प्रदेश में एक ग्राम पंचायत के उप प्रधान को पंचायत समिति सदस्य रहते हुए सरकारी धनराशि का दुरुपयोग करने के आरोप में निलंबित किया गया है। मामला प्रदेश के चंबा के तहत आते विकास खंड मैहला की ग्राम पंचायत भड़ियांकोठी का है। 

प्रधान की हुई छुट्टी:

इस संबंध में उपायुक्त चंबा डीसी राणा ने हिमाचल प्रदेश पंचायती राज अधिनियम 1994 (संशोधित) की धारा 122(2) 131(1) क व 146(1) क के तहत उप प्रधान को हटाकर पद रिक्त घोषित करने के आदेश दिए हैं। इसके साथ ही उन्होंने निर्देश दिए हैं कि आरोपित उप प्रधान ग्राम पंचायत का कोई अभिलेख, धन या अन्य संपत्ति तुरंत पंचायत सचिव को सौंपे।

बता दें कि आरटीआई कार्यकर्ता भगत राम ने ग्राम पंचायत उप प्रधान के खिलाफ पंचायत समिति सदस्य रहते मनरेगा कार्य में फर्जियां हाजिरी लगाकर सरकारी राशि हड़पने मामले का खुलासा किया था। इस पर कार्रवाई करते हुए प्रशासन की ओर से जांच की गई। जांच के दौरान उक्त उप प्रधान आरोपित पाया गया। 

कारण बताओ नोटिस हुआ था जारी:

मामले के संबंध में कोर्ट की ओर से आरोपित को सजा भी दी गई। परंतु उसे जमानत मिल गई। इसके उपरांत गत वर्ष हुए पंचायती चुनावों में उसने भड़ियांकोठी पंचायत से उप प्रधान का चुनाव लड़ा और जीत हासिल की। इस बीच प्रशासन की ओर से आरोपित को बीते 22 दिसंबर 2021 को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया था। 

जिसका जबाव आरोपित ने 13 जनवरी को दिया। परंतु जबाव सही नहीं पाया गया। वहीं, अब डीसी चंबा की ओर आरोपित पंचायत सदस्य को पद से हटाने के निर्देश दिए हैं।

उन्होंने बताया कि वर्तमान में भड़ियांकोठी उप प्रधान को सरकारी राशि का दुरूपयोग करने पर निलंबित किया गया है। इस बारे आदेश जारी कर दिए गए है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ