हिमाचल में झोलाछाप डॉक्टर चला रहा था क्लीनिक: डीएसपी गीताजंलि ने मारा छापा, सबकुछ सील

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

हिमाचल में झोलाछाप डॉक्टर चला रहा था क्लीनिक: डीएसपी गीताजंलि ने मारा छापा, सबकुछ सील


मंडीः
हिमाचल प्रदेश में कई ऐसे झोलाछाप डॉक्टर हैं जो बिना किसी डिग्री के लोगों को दवाईयां देकर उनकी जिंदगी के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं। ताजा मामला प्रदेश के मंडी जिले के तहत आते करसोग उपमंडल के भंथल क्षेत्र का है। जहां स्थित एक क्लीनिक में डीएसपी गीताजंलि ठाकुर के नेतृत्व में पुलिस टीम ने छापेमारी कर प्रतिबंधित दावईयां बरामद कर एक झोलाछाप डॉक्टर का पर्दाफाश किया है। 

आरोपित के पास ना लाईसेंस ना कोई डिग्री 

मिली जानकारी के मुताबिक बीते कल यानी सोमवार को डीएसपी गीताजंलि ठाकुर के नेतृत्व में पुलिस टीम ने भंथल स्थित एक क्लीनिक में छापेमारी की। इस दौरान उन्हें दुकान से प्रतिबंधित दवाईयों की खेप बरामद हुई। यहां तक की जब पुलिस ने उक्त डॉक्टर को दवाईयां बेचने का लाइसेंस दिखाने को कहा गया तो पता चला कि ना तो आरोपित के पास कोई लाईसेंस है और ना ही कोई डिग्री। 

क्लीनिक को किया सील

आरोपित बिना किसी डिग्री के ही लोगों को दवाईयां बेच रहा था। इस पर कार्रवाई करते हुए पुलिस टीम ने प्रतिबंधित दवाईयों की खेप को अपने कब्जे में लेकर क्लीनिक को सील कर दिया है। इसके साथ ही आईपीसी की धारा 420 तथा एनडीपीएस एक्ट के तहत मामला दर्ज कर आरोपित को हिरासत में ले लिया गया है। 

पुलिस कर रही जांच

जिसे कोर्ट में पेश करने के बाद रिमांड पर लिया जाएगा। मामले की पुष्टि करते हुए डीएसपी गीतांजलि ठाकुर ने बताया कि आरोपित को रिमांड पर लेने के बाद यह पता लगाया जाएगा कि उसके पास नशीली दवाईयां आई कहां से। 

बता दें कि इससे पहले भी डीएसपी गीतांजलि ठाकुर क्षेत्र में इस तरह दबिश देकर कई झोलाछाप डॉक्टरों का पर्दाफाश कर उन्हें हिरासत में ले चुकी हैं। वहीं, पुलिस द्वारा लगातार लोगों को फर्जी डाक्टरों से बचने की हिदायत दी जा रही है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ