CM जयराम के प्रयास जारी: 3600 लोगों के रोजगार का प्रबंध किया, सूबे के विकास में भी सहयोगी

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

CM जयराम के प्रयास जारी: 3600 लोगों के रोजगार का प्रबंध किया, सूबे के विकास में भी सहयोगी


शिमलाः
हिमाचल प्रदेश में बेरोजगारी को खत्म करने के लिए जयराम सरकार ने हाल ही में बजट के दौरान 30 हजार बेरोजगार युवाओं को नौकरियां देने का तोहफा प्रदेश की जनता को दिया था। इसी कड़ी में लगातार काम करते हुए जयराम सरकार द्वारा प्रदेश में पहला मेडिकल डिवाइस पार्क बनाया जा रहा है। इसके तहत करीब 3600 रोजगार सृजित होगें। इससे प्रदेश की बेरोजगार जनता को लाभ मिलेगा। 

बता दें कि प्रदेश के पहले मेडिकल डिवाइस पार्क के तहत करीब 3600 लोगों को रोजगार मिलेगा। इस में दो बड़े उद्योग 100-100 करोड़ रुपए का निवेश कर मेडिकल उपकरण बनाएंगे। इन में से एक उद्योग कार्चियोवेस्कूलर प्रोडक्ट तो दूसरे उद्योग में एक्सरे, आईजी, ईएमजी और ईसीजी उपकरण तैयार किए जाएंगे। 

इन उद्योगों में करीब 569 करोड़ रुपए का निवेश आकर्षित किया जाएगा। यहां तक की कई कंपनियां निवेश करने के लिए कतार में लगी हैं। इस संबंध में जानकारी देते हुए सीएम जयराम ठाकुर ने बताया कि मेडिकल डिवाइस पार्क में अधिक से अधिक निवेश के लिए पूंजीपतियों को आकर्षित किया जा रहा है। यहां तक की देश की कई नामी कंपनियों ने मेडिकल डिवाइस पार्क में निवेश के लिए एमओयू साईन भी किया है। 

इन कंपनियों ने किया निवेश, जानें क्या बनाएंगी 

  • मैसर्स रिकॉर्डर और मेडिकेयर सिस्टम प्राइवेट लिमिटेड सौ करोड़ निवेश कर एक्सरे, ईएमजी स्पाइरोमीटर और ईसीजी उपकरण तैयार करेगी। 
  • 100 करोड़ निवेश कर मैसर्ज मार्क एंबेलेजिस प्राइवेट लिमिटेड हिमुडा भटोलीकलां कार्डियोवेस्कूलर प्रोडक्ट का उत्पादन करेगी। 
  • 90 करोड़ से मैसर्ज लाइफ केयर न्यूरो प्रोडक्ट डिस्पोजेबल सिरिंज, 70 करोड़ निवेश कर मैसर्ज एएनजी लाइफ साइंस इंडिया लिमिटेड न्यूरोसर्जिआतकल प्रोडक्ट का उत्पादन करेगी। 
  • मैसर्ज कार्डियोलैब्स हेल्थ केयर इंडिया लिमिटेड 50 करोड़ निवेश कर आईसीयू, मरीज निगरानी मॉनीटर और कार्डियो उपकरण बनाएगी। 
  • 50 करोड़ का निवेश कर मैसर्ज लाजिस्टिक मेडिकल डिवाइस और सर्जिकल उपकरणों का उत्पादन करेगी। 
  • 5 करोड़ निवेश कर मैसर्ज विश्वकर्मा इंजीनियरिंग नालागढ़ सफाई उपकरण बनाएगी।
  • 10 करोड़ निवेश कर मैसर्स एस्टीम इंडस्ट्रीज बद्दी कार्डियोवस्कूलर और ऑर्थोपेडिक उपकरण बनाएगी। 
  • 10 करोड़ के निवेश के साथ मैसर्ज लबत एशिया प्राइवेट लिमिटेड ऑडियोलॉजी, वेस्टीबूलर और बायो सिग्नल रिकॉर्डर बनाएगी। 
  • 8 करोड़ निवेश कर मैसर्ज क्योरोनिक सिस्टम डायग्नास्टिक बायो केमिस्ट्री एनेलाइजर उपकरण बनाएगी। 
  • 12 करोड़ के निवेश के साथ मैसर्ज वीएनजी मेडिकल इनोवेशन प्राइवेट लिमिटेड नवजात शिशुओं के लिए उपकरण बनाएगी। 
  • मैसर्ज वालनट मेडिकल प्राइवेट लिमिटेड रक्तचाप मॉनीटर और ऑक्सीजन कंसंट्रेटर बनाएगी। 
  • 20 करोड़ का निवेश कर मैसर्ज रेडियंट इंडस्ट्रीज बिजली के हीटर, पंखे, कीट मारने और रसोई के उपकरण बनाएगी। 
  • 20 करोड़ के निवेश कर मैसर्ज सेगुरू लाइफ साइंस प्राइवेट लिमिटेड कार्डियो स्टंट, कैथेटर और ग्रिड वायर का उत्पादन करेगी।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ