वीरभद्र के चेहरे पर कांग्रेस लड़ेगी चुनाव; राठौर के दावे से बिगड़ सकता है कई गुटों का खेल

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

वीरभद्र के चेहरे पर कांग्रेस लड़ेगी चुनाव; राठौर के दावे से बिगड़ सकता है कई गुटों का खेल


कुल्लू:
हिमाचल प्रदेश कांग्रेस वीरभद्र सिंह के चेहरे से अभी भी बाहर नहीं निकल पा रही है। एकतरफ विक्रमादित्य दावा कर रहे हैं कि एक तिहाई प्रदेश पर उनके परिवार का कब्जा है।

बड़े चेहरे के नाम पर लड़ा जाएगा चुनाव:

वहीं, कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर ने भी साफ कर दिया है कि आगामी चुनाव में भी उनकी पार्टी पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के चेहरे पर चुनाव लड़ेगी।

बता दें कि कुलदीप राठौर कुल्लू दौरे पर थे। यहां उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा कि प्रदेश में बार-बार वीरभद्र सिंह के नाम पर कांग्रेस वोट मांगेगी। भाजपा को इससे पीड़ा क्यों हो रही है।

मुकेश को मुख्यमंत्री बनाने में जुटा परिवार:

साथ ही उन्होंने कहा कि प्रदेश में डा. वाईएस परमार और वीरभद्र सिंह प्रदेश में कांग्रेस पार्टी के बड़े नेता रहे हैं। प्रदेश में मुख्यमंत्री रहते हुए प्रदेश का विकास किया है।

गौरतलब है कि हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस पार्टी कई धरों में बंटी हुई है। उपचुनाव में मिली जीत के बाद से ही मुकेश अग्निहोत्री खुद को मुख्यमंत्री का उम्मीदवार मान चुके हैं। अग्निहोत्री ने अपने बेटा - बेटी सबको चुनाव प्रचार में उतार दिया है।

एक तिहाई प्रदेश पर कब्जे का टिक्का का दावा:

वहीं, विक्रमादित्य ने सदन में बयान देकर साफ कर दिया है कि एक तिहाई प्रदेश पर उनके परिवार का कब्जा है। पार्टी उनकी दावेदारी को हल्के में लेने की गलती ना करे।

वहीं, कुलदीप राठौर ने भी उपचुनाव में मिली जीत का नायक खुद को मान रहे हैं। देखना दिलचस्प होगा कि आने वाले समय में कांग्रेस पार्टी का कौन सा धरा किसके साथ जाता है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ