हिमाचल: दुनिया को अलविदा कह कईयों को जिंदगी की सौगात दे गया 18 साल का ‘विशाल’

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

हिमाचल: दुनिया को अलविदा कह कईयों को जिंदगी की सौगात दे गया 18 साल का ‘विशाल’

कांगड़ा: हिमाचल प्रदेश ने चिकित्सा व्यवस्था के क्षेत्र में नया कीर्तिमान स्थापित किया है। मेडिकल कॉलेज टांडा में ब्रेन डेड मरीज का सफलतापूर्वक ऑपरेशन कर अंगदान किया गया है।

बाइक से गिर गया था विशाल:

बता दें कि बीते 10 मार्च को हटवास के युवक विशाल (18 वर्ष) का दोपहिया वाहन डाढ़ के पास स्किड हो गया था। परिजन पहले टांडा फिर पीजीआई और फिर लुधियाना ले गए।

लुधियाना में डॉक्टरों ने विशाल को ब्रेन डेड घोषित कर दिया। जिसके बाद परिजान उसे वापस टांडा ले आए। टांडा कॉलेज के प्राचार्य डॉ। भानू अवस्थी ने परिजनों को अंगदान के लिए अनुरोध किया। जिसे उन्होंने सहर्ष स्वीकार कर लिया।

आंखों और गुर्दों को निकाला गया:

परिजनों की सहमित मिलने के बाद पीजीआई चंडीगढ़ के डॉ. आशीष शर्मा के नेतृत्व वाली टीम ने करीब सवा दो घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद सफल ऑपरेशन किया गया। ब्रेन डेड विशाल के आंखों और गुर्दों को सफलतापूर्वक निकाला गया।

इस टीम में पीजीआई चंडीगढ़ से चार डॉक्टर, टीमएसी से डॉ। राकेश, डॉ। भारती गुप्ता सहित चार डॉक्टर, नर्सें व अन्य स्टाफ शामिल रहे। ऑपरेशन के तुरंत बाद इन अंगों को पीजीआई चंडीगढ़ ले जाया गया है। 

पीजीआई चंडीगढ़ में जरूरतमंद व्यक्तियों को ये अंग दान किए जाने हैं। इन अंगों को ऑपरेशन के 12 घंटों के भीतर प्रत्यारोपित कर दिया जाएगा। अस्पताल प्रशासन ने अंगदान करने वाले युवक के परिवार के हौसले की सराहना की है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ