‘जोइया मामा’ के और भी भांजे नपे: 3 और तबादले हुए, अब फैसले के खिलाफ जाएंगे हाईकोर्ट

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

‘जोइया मामा’ के और भी भांजे नपे: 3 और तबादले हुए, अब फैसले के खिलाफ जाएंगे हाईकोर्ट


शिमला।
हिमाचल प्रदेश में ओल्ड पेंशन को लेकर प्रदर्शन के दौरान ‘जोइया मामा मानदा नहीं, कर्मचारी री शुणदा नहीं’ का नारा देकर प्रदेश सरकार की नाक में दम करने वाले सरकारी कर्मचारियों पर गाज गिरने का सिलसिला जारी है। इसी कड़ी में खबर सामने आई है कि सरकार के खिलाफत में उतरे तीन और शिक्षकों का तबादला कर दिया गया है। 

अब इनका हुआ तबादला 

ताजा आदेशों के तहत महासंघ के राज्य सचिव सुनील चौहान को रोहड़ू से ढली स्कूल तथा महासंघ के सदस्य रमेश चंद को टिक्कर से मशोबरा स्कूल स्थानांतरित किया गया है। इसी तरह शिलाई उपमंडल की हलाहं पाठशाला से पांचवी ट्रांसफर की खबर आई है। विद्यालय में शास्त्री के पद पर मनोज कुमार का तबादला ददाहू खंड के भाटगढ़ में किया गया है।

हाईकोर्ट की शरण में जाएंगे नाराज शिक्षक 

इससे पहले पिछले कल छह पदाधिकारियों के ट्रांसफर ऑर्डर हुए थे। वहीं, तबादलों से नाराज शिक्षक हाईकोर्ट की शरण में जाने के लिए तैयार हैं। सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करने वाले शिक्षकों पर उच्च और प्रारंभिक शिक्षा निदेशालय का शिकंजा कसने के बाद शिक्षकों ने अपने सांविधानिक अधिकारों का तर्क देते हुए हाई कोर्ट में तबादला आदेशों को चुनौती देने का फैसला लिया है। 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ