हिमाचल कांग्रेस ने नेताओं की फ़ौज पहुंची सोनिया के द्वार: इन नेताओं के कटेंगे टिकट!

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

हिमाचल कांग्रेस ने नेताओं की फ़ौज पहुंची सोनिया के द्वार: इन नेताओं के कटेंगे टिकट!


शिमला/नई दिल्ली।
हिमाचल प्रदेश में साल के अंत में चुनाव होने हैं। ऐसे में सूबे के सभी राजनीतिक दल सक्रीय होते नजर आ रहे हैं। इसी कड़ी में सत्ता वापसी के उम्मीद लगाए बैठी कांग्रेस पार्टी से ताल्लुक रखने वाले दिग्गज नेताओं की फ़ौज आज पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से मिलने दिल्ली पहुंचे। राजधानी स्थित 10 जनपथ में हुई इस बैठक में हिमाचल कांग्रेस के करीब 25 नेताओं ने हिस्सा लिया। 

बैठक में क्या हुआ 

पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव हारने के बाद सोनिया गांधी ने मंगलवार को नई दिल्ली में प्रदेश के इन नेताओं को अनुशासन का पाठ पढ़ाया। इसके साथ ही सोनिया गांधी ने भाजपा से विधानसभा चुनाव की लड़ाई को मिल-जुलकर लड़ने के लिए एकजुटता की सीख दी। 

नेता बोले- बदलाव करना है तो जल्दी करें 

बैठक में सोनिया गांधी ने इन नेताओं से सुझाव भी लिए। कुछ नेताओं ने कहा कि प्रदेश संगठन में बदलाव करना है या नहीं, इस पर जल्दी स्थिति स्पष्ट होनी चाहिए। इससे चुनाव प्रचार से पहले कोई दुविधा नहीं रहेगी। 

इन नेताओं की राह होगी मुश्किल 

इस बैठक के दौरान इस बात पर भी चर्चा हुई कि आगामी चुनावों में युवा चेहरों को प्रमुखता के साथ टिकट देना होगा। इसके साथ ही बार बार चुनाव हारने वाले नेताओं को भी अब चुनावी प्रतियोगिता की दौड़ से बाहर किया जाएगा। ऐसे में अब जहां एक तरफ उम्रदराज नेताओं का राजनीतिक करियर अधर में पड़ता नजर आ रहा है। वहीं, पार्टी की कसौटी पर खरे ना उतर पाने वाले नेताओं का भी पत्ता गोल होना तय हो गया है। 

हिमाचल से जुड़े ये नेता रहे मौजूद 

एआईसीसी महासचिव संगठन केसी वेणुगोपाल, पूर्व केंद्रीय मंत्री आनंद शर्मा, हिमाचल कांग्रेस प्रभारी राजीव शुक्ला, सह प्रभारी संजय दत्त, तेजेंद्र बिट्टू, एआईसीसी सचिव सुधीर शर्मा, राजेश धर्माणी, रघुवीर बाली और अनिरुद्ध सिंह मौजूद रहे। प्रदेशाध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर, नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री, पूर्व प्रदेशाध्यक्ष सुखविंद्र सुक्खू, कौल सिंह ठाकुर, विप्लव ठाकुर और कुलदीप कुमार, सांसद प्रतिभा सिंह, विधायक रामलाल ठाकुर, डॉ। धनी राम शांडिल, आशा कुमारी, हर्षवर्धन चौहान, पवन काजल और पूर्व मंत्री हर्ष महाजन बैठक में शामिल रहे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ