हिमाचल: पशुपालन विभाग के अस्पताल में कर्मचारी ने लगाया फंदा, बेटा फोन मिलाता रह गया

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

हिमाचल: पशुपालन विभाग के अस्पताल में कर्मचारी ने लगाया फंदा, बेटा फोन मिलाता रह गया


मंडीः
हिमाचल प्रदेश में पशुपालन विभाग के सब डिविजन अस्पताल में तैनात एक चौकीदार द्वारा फंदा लगाकर आत्महत्या करने की खबर सामने आई है। मामला प्रदेश के मंडी जिले के तहत आते सरकाघाट का है।

6-7 सालों से थे तैनात

मृतक की पहचान हंसराज पुत्र भगतु राम निवासी गांव सापड़ी सरकाघाट के तौर पर हुई है। मिली जानकारी के मुताबिक मृतक पशुपालन विभाग के अस्तपाल में पिछले 6-7 सालों से चौकीदार के पद पर सेवाएं दे रहा था। 

अंदर से बंद था कमरा

इस दौरान जब आज सुबह उनके बेटे सचिन ने मोबाइल फोन के माध्यम से उनसे संपर्क करना चाहा तो हंसराज ने फोन नहीं उठाया। इस पर बेटे ने अस्पताल में कार्यरत फार्मासिस्ट पूजा को कॉल कर मामले की जानकारी दी। जब पूजा चेक करने के लिए हंसराज के कमरे के पास पहुंची तो उनका कमरा अंदर से बंद पाया गया। 

पंखे पर लटका मिला 

काफी खटकाने के बाद भी जब हंसराज ने कमरा नहीं खोला तो उन्हें किसी अनहोनी का अहसास हुआ। इस पर उन्होंने तुरंत अस्पताल में मौजूद अन्य स्टाफ सदस्यों सहित पुलिस को मौके पर बुलाया। वहीं, घटना की सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुचीं पुलिस टीम ने जब दरवाजा तोड़कर कमरे में प्रवेश किया तो उन्होंने हंसराज को पंखे से लटका हुआ पाया। 

पुलिस कर रही जांच

इस पर पुलिस ने पहले तो शव को पंखे से नीचे उतारा इसके उपरांत कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भिजवा दिया। इसके साथ ही घटना के संबंध में मामला दर्ज कर आगामी कार्रवाई अमल मे लाई जा रही है। हालांकि, अभी तक इस बता का पता नहीं चल पाया है कि मृतक ने इतना खौफनाक कदम क्यों उठाया। मामले की पुष्टि डीएसपी दिनेश कुमार ने की है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ